Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

रुपए पर सीएनबीसी-आवाज़ का मेगा पोल

प्रकाशित Mon, 08, 2018 पर 13:44  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

रुपये की लगातार कमजोरी ने सरकार के साथ निवेशकों और ट्रेडर्स को चिंता में डाल दिया है। महंगे क्रूड ने इस तकलीफ को और बढ़ा दिया है। ऐसे में सभी जानना चाहते हैं कि रुपये की कमजोरी कब थमेगी। इन्हीं सवालों पर सीएनबीसी-आवाज़ ने बैंकर्स के बीच एक मेगापोल कराया है। जिसमें भाग लेने वाले 55 फीसदी बैंकर्स का कहना है कि डॉलर के मुकाबले रुपये के 75 के स्तर पर जाकर संभलने की उम्मीद है। जबकि 45 फीसदी भागीदार इससे सहमत नहीं हैं।


इस पोल में भाग लेने वाले 10 फीसदी भागीदारों का मानना है कि दिसंबर 2018 तक रुपया 70 से 72 के बीच रहेगा। जबकि 45 फीसदी भागीदारों का कहना है कि दिसंबर 2018 तक रुपया 72 से 74 के स्तर पर रहेगा। शेष 45 फीसदी भागीदारों का कहना है कि दिसंबर 2018 तक रुपया 74 से 76 के स्तर पर रहेगा।


इस पोल में भाग लेने वाले 40 फीसदी बैंकर्स का कहना है कि अगर क्रूड 90 डॉलर पर पहुंच जाता है तो डॉलर के मुकाबले रुपया 75 के स्तर तक पहुंच जाएगा। जबकि 30 फीसदी बैंकर्स का कहना है कि अगर क्रूड 90 डॉलर पर पहुंच जाता है तो डॉलर के मुकाबले रुपया 76 के स्तर तक पहुंच जाएगा। वहीं 10 फीसदी बैंकर्स का कहना है कि अगर क्रूड 90 डॉलर पर पहुंच जाता है तो डॉलर के मुकाबले रुपया 77 के स्तर तक पहुंच जाएगा। जबकि 20 फीसदी बैंकर्स का कहना है कि अगर क्रूड 90 डॉलर पर पहुंच जाता है तो डॉलर के मुकाबले रुपया 78 के स्तर तक पहुंच जाएगा।


पोल में शामिल 45 फीसदी बैंकर्स का कहना है कि रुपये को संभालने के लिए सरकार को एनआरआई बॉन्ड लाना चाहिए। जबकि 55 फीसदी बैंकर्स एनआरआई बॉन्ड लाने के पक्ष में नहीं हैं।