Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

Cognizant ने की हजारों कर्मचारियों की छंटनी: IT कर्मचारी संगठन

आईटी सर्विस कंपनी Cognizant Technology Solutions Corp ने अपने हजारों ऑन बेंच कर्मचारियों की छंटनी कर दी है
अपडेटेड Jul 06, 2020 पर 07:28  |  स्रोत : Moneycontrol.com

Nasdaq लिस्टेड आईटी सर्विस कंपनी Cognizant Technology Solutions Corp ने अपने हजारों ऑन बेंच कर्मचारियों की छंटनी कर दी है। ऑन बेंच कर्मचारी उन कर्मचारियों को कहते है जो किसी क्लायंट प्रोजोक्ट से नहीं जुड़े होते। कंपनियां इनको रिजर्व फोर्स के रुप में रखती हैं। आईटी सर्विस कंपनियों में  ऑन बेंच कर्मचारियों को नान-बिलेबल माना जाता है। इसका अर्थ ये है कि इन कमर्चारियों को रखने का खर्च कंपनी को खुद उठाना होता है। इनकी लागत किसी क्लायंट से मिले प्रोजेक्ट से नहीं निकलती। सामान्यतौर पर आईटी सर्विस कंपनियां छोटी मात्रा में  रिजर्व फोर्स के रुप में ऑन बेंच कर्मचारी रखती हैं जिससे कि वे किसी प्रोजेक्ट को तत्काल पूरा करने के लिए तैयार रहें।


लाइव मिंट की रिपोर्ट में कहा गया है कि कर्नाटक और चेन्नई के स्टेट आईटी इम्प्लाइज यूनियन ने आरोप लगाया है कि Cognizant पूरे भारत में करीब 18,000 कर्मचारियों को ऑन बेंच घोषित करने के बाद बड़ी संख्या में छंटनी कर रही है। लाइव मिंट इस संख्या की स्वतंत्र रुप से पुष्टि नहीं करता है।


कर्नाटक स्टेट IT/ITeS इम्प्लाइज यूनियन (KITU) ने Cognizant के मैनेजमेंट के इस निर्णय की आलोचना की है। KITU ने अपने बयान में कहा है कि वर्क फोर्स को प्रभावी रुप से मैनेज करने के नाम पर Cognizant द्वारा बड़ी मात्रा में कर्मचारियों की छंटनी करने की खबरें आ रही हैं। पूरे देश में कंपनी के हजारों कर्मचारी इसके शिकार बनने जा रहे हैं। कई कर्मचारियों ने KITU में अपनी शिकायत दर्ज करवाई है। यूनियन ने Cognizant के मैनेजमेंट के इस निर्णय के खिलाफ कानूनी लड़ाई भी शुरू कर दी है।


चेन्नई स्थित आईटी कर्मचारियों के एक और संगठन The New Democratic Labour Front (NDLF) ने भी आरोप लगाया है कि Cognizant अपने चेन्नई  ऑफिस में भी कर्मचारियों को ऑनबेंच घोषित कर रही है फिर उनको 41 दिन बाद इस्तीफा देने के लिए फोर्स कर रही है।


बता दें की TCS के बाद Cognizant दूसरी ऐसी IT कंपनी है जो भारत में 2 लाख से ज्यादा लोगों को नौकरी देती है। इसकी ग्लोबल स्ट्रेंथ करीब 2.9 लाख है जिसमें अधिकांश इसके चेन्नई ऑफिस में नियुक्त हैं।


उधर Cognizant के प्रवक्ता ने कहा है कि कंपनी में हुई कोई भी छंटनी प्रदर्शन के आधार पर की गई है। सभी आईटी कंपनियों में परफॉर्मेंस मैनेजमेंट आम चलन है इसके तहत छंटनी की जाती  है। Cognizant भी इसका अपवाद नहीं है।  Cognizant के प्रवक्ता ने आगे कहा कि कंपनी बाजार की अटकलों और अफवाहों पर कोई टिप्पणी नहीं करती। लेकिन हम यहां साफ करना चाहेंगे कि किसी तीसरे पक्ष द्वारा लगाए गए छंटनी के आरोप गलत और आधारहीन हैं।  Cognizant की तरफ से इस तरह का कोई एलान नहीं किया गया है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।