Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

कंज्यूमर अड्डाः गर्मी की आफत, कैसे मिले राहत

गर्मी की सभी बीमारियों से जरा सी सावधानी से बचा जा सकता है।
अपडेटेड May 14, 2019 पर 09:27  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

गर्मी आई-आफत लाई। ये ऐसा मौसम हैं जहां जरा सी लापरवाही बड़ी मुसीबत का कारण बन सकती है। लू लगने से लेकर पीलिया, पेट की दिक्कतें, टाइफाइड, सनबर्न सभी इसी मौसम में होते हैं, तो  गर्मी की आफत से कैसे मिले राहत- आज कंज्यूमर अड्डा पर इसी पर बात करेंगें। क्या करें , क्या न करें और चिलचिलाती धूप के अलावा और क्या कुछ है इस मौसम में जो आपको कर सकता है बीमार हमारे एक्सपर्ट्स करेंगे आपकी मदद।


गर्मी अपने जोरों पर है। आने वाले दिनों में और बढ़ेगी। जैसे-जैसे गर्मी बढ़ रही है, इससे होने वाली बीमारियां भी बढ़ रही हैं। स्ट्रीट फूड और खराब खान-पान बीमारियों की सबसे बड़ी वजहें है। गर्मियों में चीजें जल्दी खराब होती हैं, पानी में बैक्टीरिया जल्दी और ज्यादा पैदा होते हैं। ऐसे में अस्पातालों में लू, हीट स्ट्रोक, गैस्ट्रोएंट्राइटिस यानी पेट की दिक्कतें, डायरिया, पीलिया, टायफाइड, एलर्जी और सनबर्न के मरीजों की तादाद बढ़ गई है।


गर्मी की सभी बीमारियों से जरा सी सावधानी से बचा जा सकता है। अगले दो महीने तक स्ट्रीट फूड से दूर रहना फायदेमंद रहेगा। साफ और फिल्टर पानी पिएं। जहां तक हो सकें घर से निकलते वक्त पानी की बोतल लेकर चलें। रोजाना 2 से 3 लीटर पानी पिएं। नींबू, आम पन्ना, खस, फालसे, संतरे का जूस पिएं। तरबूज, खरबूज, संतरा, मौसमी, अंगूर, पपीता, अनार, आम जैसे रसदार फल खाएं। लौकी, ककड़ी, खीरा, तोरी, पालक गर्मियों के लिए अच्छी सब्जियां हैं। साफ-सफाई और हमेशा हाईड्रेटेड रहना गर्मी की बिमारियों से बचाव का सबसे कारगर तरीका है। और हां अगर परेशानी ज्यादा हो तो तुरंत डॉक्टर के पास जाने में नहीं हिचकिचाएं।