Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

कंज्यूमर अड्डा: मोमो चैलेंज गेम के चक्कर में ना फंसना

प्रकाशित Tue, 07, 2018 पर 07:49  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बहुत दिन नहीं हुए जब ब्लू व्हेल ने देश भर में आतंक मचा रखा था और अब एक नई आफत आपके स्मार्टफोन पर दस्तक दे रही है। इसका नाम है मोमो चैलेंज गेम। ये गेम शुरू होता है एक अनजान नंबर के साथ और उसके बाद एक काल्पनिक कैरेक्टर मोमो से आपका परिचय करवाया जाता है। दरअसल मोमो एक जापानी कलाकार मिदोरी की कृति है लेकिन इस गेम का उस कलाकार से कोई संबंध नहीं है। मोमो चैलेंज गेम में इसका बेजा इस्तेमाल हो रहा है।


यहां मोमो आपको एक के बाद एक चैलेंज देने के लिए आती है। इसमें हो सकता है कि पहले आपको बहादुरी साबित करने को कहा जाए या आपकी निराशा को हवा दी जाए। लेकिन समय के साथ साथ मोमो आपके राज जान लेती है और आपसे कई गलत काम करवा लेती है। आप उसके सामने लाचार हो जाते हैं और फिर वो आपके सामने इतनी मजबूत हो जाती है कि आपसे कुछ भी करवा सकती है यहां तक की आत्महत्या भी। आखिर कंप्यूटर, मोबाइल और इंटरनेट की वर्चुअल दुनिया में ऐसी चीजें क्यों पैदा होती हैं जो हमारी असली दुनिया को उजाड़ने में लगी हैं। इनसे कैसे बचें कंज्यूमर अड्डा में इन सवालों के जवाब तलाशने की कोशिश हो रही है।


ब्लू व्हेल के बाद अब मोमो इंटरनेट पर सुसाइड के लिए उकसाने वाला नया गेम है। मोमो चैलेंज गेम खासकर बच्चों को टार्गेट कर रहा है। इसके चलते अर्जेंटीना में एक 12 साल की बच्ची ने आत्महत्या कर ली। सुसाइड से पहले बच्ची ने एक वीडियो भी बनाया था। इस वीडियो से ही मोमो की कारस्तानियां पकड़ में आईं। मैक्सिको, फ्रांस, जर्मनी में मोमो को लेकर चेतावनी जारी की गई है। लेकिन भारत में अभी तक किसी बड़ी घटना की सूचना नहीं है।