Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

कंज्यूमर अड्डा: जीएसटी काउंसिल से आई बड़ी राहत

प्रकाशित Fri, 11, 2019 पर 08:10  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

जीएसटी काउंसिल ने कारोबारियों को खुश कर दिया, खासकर छोटे-मझोले कारोबारियों के लिए तो कल का दिन काफी खास रहा। जीएस काउंसिल ने कंपोजिशन स्कीम की सीमा 1 करोड़ से बढ़ाकर 1.5 करोड़ कर दी है। साथ ही कंपोजिशन स्कीम के तहत अब साल में सिर्फ 1 बार रिटर्न फाइल करना होगा। यानि अब 1.5 करोड़ तक का सालाना कारोबार करने वाले कंपोजिशन स्कीम में शामिल हो सकते हैं और इसके तहत अब प्रक्रिया भी पहले से आसान होगी। ये बदलाव 1 अप्रैल से लागू होंगे। इतना ही नहीं सर्विस सेक्टर को पहली बार कंपोजीशन स्कीम में शामिल किया है जिसके तहत 50 लाख तक के सालाना टर्नओवर वाले कारोबारी इस स्कीम का फायदा उठा सकते हैं इसके लिए 6 फीसदी टैक्स देना होगा।


छोटे कारोबारियों के लिए भी बड़ी खुशखबरी है, उनके लिए जीएसटी की थ्रेशहोल्ड लिमिट 20 लाख रुपये से बढ़ाकर 40 लाख रुपये कर दी गई है। यानि अब 40 लाख तक कारोबार करने वाले अगर चाहें तो जीएसटी के दायरे से बाहर रह सकेंगे। ये सीमा छोटे राज्यों के लिए 10 लाख से बढ़ाकर 20 लाख की गई है। काउंसिल ने केरल की आपदा राहत के लिए 2 साल तक 1 फीसदी सेस को भी मंजूरी दे दी है। यानि कारोबारियों की तो बल्ले-बल्ले हो गई है। हालांकि घर खरीदारों को अभी थोड़ा और इंतजार करना होगा। अंडर कंस्ट्रक्शन प्रॉपर्टी के मुद्दे को मंत्रियों के समूह को भेज दिया गया है और वो इस पर कोई फैसला लेगा।