Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

कंज्यूमर अड्डाः फर्जी कॉल से ठगी का खेल

प्रकाशित Sat, 01, 2018 पर 13:55  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

क्या आपसे कभी बैंक के नाम पर फोन करके निजी या बैंक डीटेल्स मांगी गई हैं, क्या नौकरी दिलाने के नाम पर किसी ने आपसे पैसे मांगे हैं या फिर किसी ने फोन करके कहा हो कि वो आपको टैक्स रिफंड या इंश्योरेंस का पैसा दिला देगा। अगर हां तो सावधान हो जाईये क्योंकि हो सकता है कि जैसे ही आप ये जानकारी फोन करने वाले को दें। कुछ ही मिनटों में आपका बैंख खाता खाली हो जाए। हाल फिलहाल ऐसे मामलों की बाढ़ सी आ गई है और लोगों को ये ठग खूब चूना लगा रहे हैं। तो ऐसी कॉल आने पर क्या करें, कैसे इन धोखेबाज़ों का शिकार होने बचें।


फर्जी कॉल और इंटरनेट के जरिये ठगी के मामले देश-दुनिया में लगातार बढ़ते जा रहे हैंI छोटा कस्बा हो या बड़ा शहर, हर जगह से ऐसे मामले सामने आ रहे हैंI नोएडा पुलिस ने इंटरपोल, एफबीआई और रॉयल पुलिस ऑफ कनाडा के साथ मिलकर एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है, जो यूएसए कनाडा, ऑस्ट्रेलिया समेत 12 से ज्यादा देशों के लोगों से ठगी करता थाI ये गिरोह माइक्रोसॉफ्ट विंडो यूज करने वाले लोगों के सिस्टम पर फर्जी पॉप-अप मैसेज भेज कर लोगों को फांस लेता थाI और फिर छुटकारा दिलाने के नाम पर 100 से 3000 डॉलर तक हड़प लेता थाI दिल्ली-एनसीआर में पिछले एक साल ऐसे 50 से ज्यादा फर्जी कॉल सेंटरों का भंडाफोड़ हो चुका हैI


लेकिन ये न ही कोई पहला मामला हैI और ना ही लोगों को ठगने का एकमात्र तरीका। ठग आजकल लोगों को चूना लगाने के लिए तरह-तरह के तरीके आजमा रहे हैंI जैसे कि टैक्स रिफंड के नाम पर निजी जानकारी और बैंक डिटेल मांगा जाता है और फिर अकाउंट से सारे पैसे गायब कर दिए जाते हैं। रेलवे में नौकरी का नियुक्ति पत्र भेजकर गारंटी के नाम पर पैसों की ठगी की जाती हैI


एक मामला तो ऐसा भी सामने आया जिसमें ग्राहक को फोन कर हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी बेच दी और ग्राहक जब अस्पताल में भर्ती हुआ तो पॉलिसी फर्जी निकली। इसके अलावा आरबीआई के नाम पर मेल और फोन पर बैंक जानकारी मांगने के मामले भी सामने आ रहे हैं। पब्लिक वाई-फाई, सिम स्वैपिंग के जरिये भी धोखाधड़ी के मामले बढ़ते जा रहे हैंI कौन बनेगा करोड़पति, एटीएम कार्ड के वेरिफिकेशन और सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर भी लोगों को जम कर चूना लगाया जा रहा है।


कुल मिलाकर समझने वाली बात ये है कि हर वक्त कोई है जो आपको अपने झांसे मे फंसाने की कोशिश कर रहा हैI जरूरत है अलर्ट रहने और ये ध्यान रखने की, कि फोन पर किसी के साथ भी निजी जानकारी शेयर ना करेंI और शक होने पर पुलिस को जरूर सूचित करें।