Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

Coronavirus pandemic: USFDA ने COVID-19 के लिए ऐट होम सलाइवा टेस्ट को दी मंजूरी

अमेरिकी एफडीए ने COVID-19 के टेस्ट के लिए अपनी तरह के पहले ऐट होम सलाइवा कलेक्शन टेस्ट को मंजूरी दे दी है।
अपडेटेड May 10, 2020 पर 09:54  |  स्रोत : Moneycontrol.com

अमेरिकी एफडीए ने COVID-19 के टेस्ट के लिए अपने तरह के पहले ऐट होम सलाइवा कलेक्शन टेस्ट को मंजूरी दे दी है। इसके जरिए कोई भी व्यक्ति अपने घर में रहकर कोरोना टेस्टिंग के लिए अपना सलाइवा लैब भेज सकता है। इस टेस्टिंग किट का विकास अमेरिका की एक संस्था RUCDR Infinite Biologics द्वारा किया गया है। यह संस्था एक बायोरिपॉजिटरी है जो न्यूजर्सी के Rutgers University में स्थित है।
 
Rutgers University की तरफ से दिए गए बयान में ये कहा गया है कि 7 मई को इस टेस्ट किट को यूएसएफडीए से एमरजेंसी यूज अथॉराइजेशन मिल गया है। RUCDR के सीईओ और डायरेक्टर ऑफ टेक्नोलॉजी डेवलपमेंट एंड्रयू ब्रूक्स  (Andrew Brooks) ने कहा है कि घर पर ही सलाइवा सैपेंल कलेक्ट करने से संक्रमण का खतरा तुलनात्मक रुप से काफी कम हो जाता है। यह टेस्ट नाक में स्टिक के जरिए स्वाब डालकर या गले में  स्वाब डालकर सैंपल लेने की तुलना में कहीं ज्यादा भरोसेमंद और आरामदायक तरीका है।


LiveScience की एक रिपोर्ट के मुताबिक सलाइवा टेस्ट नाक और गले के  स्वाब के मुकाबले में कही ज्यादा प्रमाणिक पाया गया है। इस टेस्ट के सैंपल कलेक्शन के लिए किसी व्यक्ति को Spectrum Solutions द्वारा विकसित प्रिजरवेटिव से भरे हुए एक कन्टेनर में थूकना होता है।


इस कन्टेनर  में भरे लिक्विड के घटकों के बारे में गोपनीयता बरती गई है लेकिन यह साफ है कि दूसरे स्वाब टेस्ट की तरह ही सलाइवा टेस्ट में भी पीसीआर मशीन का प्रयोग किया जाता है। अप्रैल महीने में Rutgers लैब में 90000 सैपेंल टेस्ट किए गए लेकिन अब नई ऐट होम सलाइवा कलेक्शन टेस्ट किट के जरिए ये लैब रोजाना कई हजार सैंपेल टेस्ट कर सकता है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।