Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

Coronavirus pandemic: गोएयर ने रखा प्रवासी श्रमिकों को उनके घर पहुंचाने का प्रस्ताव

गोएयर ने Twitter पर कहा है कि वो इस अभूतपूर्व संकट से निपटने के लिए सरकार और राष्ट्र के साथ कंधे से कंधा मिला कर खड़ा है।
अपडेटेड Mar 30, 2020 पर 08:32  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

गोएयर ने प्रवासी श्रमिकों को अपने विमानों से उनके घर पहुचाने की पेशकश की है। बता दें  कि   25 मार्च से भारत में 21 दिनों का lockdown घोषित किए जाने के बाद से ही हजारों लोग पैदल और साइकिल से शहरों से अपने घर वापस जाने के लिए निकल रहे हैं। गोएयर ने Twitter पर कहा है कि वो इस अभूतपूर्व संकट से निपटने के लिए सरकार और राष्ट्र के साथ कंधे से कंधा मिला कर खड़ा है।


स्पाइसजेट ने भी 21 दिन की इस तालाबंदी के दौरान सरकार को किसी भी मानवीय मिशन के लिए अपने विमान और चालक दल के सदस्यों की सेवाएं देने का प्रस्ताव दिया है। स्पाइसजेट के CMD अजय सिंह ने  28 मार्च को कहा कि स्पाइसजेट प्रवासी श्रमिकों, विशेषकर बिहार के लोगों की पीड़ा को कम करने के लिए दिल्ली और मुंबई से पटना के लिए कुछ उड़ानें संचालित करने के लिए  तैयार है।
 
हाल ही में GoAir के advisor बनाए गए संजीव कपूर ने कहा कि अपने परिवारों और छोटे बच्चों के साथ सैकड़ों मील दूर अपने घर के लिए पैदल निकलने  वाले प्रवासी श्रमिकों की पीड़ा दिल दहला देने वाली है। GoAir प्रवासी श्रमिकों को उनके घर पहुचाने के लिए विशेष उड़ानें संचालित करने के लिए तैयार हैं और इसके लिए उसने सरकार के सामने प्रस्ताव भी रखा है। गौरतलब है कि COVID-19 का मुकाबला करने के लिए सरकार द्वारा घोषित 21 दिनों के लॉकडाउन के बाद हजारों प्रवासी श्रमिकों ने भोजन की कमी और बुनियादी सुविधाओं का हवाला देते हुए शहरों से बाहर जाना शुरू कर दिया है। लेकिन बस या ट्रेन परिवहन उपलब्ध नहीं होने के कारण उन्हें पैदल, साइकिल या रिक्शा से घर वापस जाने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।


लॉकडाउन के कारण एयरलाइंस ने भी 14 अप्रैल तक अपनी उड़ानों को स्थगित कर दिया है। लेकिन एयरलाइंस कंपनियों ने प्रवासी श्रमिकों को राहत पहुचानें  और लोगों और सामग्री को लाने और ले जाने  के लिए अपनी उड़ान संचालित करने का प्रस्ताव रखा है।


इससे पहले, इंडिगो ने नागरिक उड्डयन मंत्रालय के सामने प्रस्ताव रखा था कि वो  दवा, उपकरण और राहत सामग्री को लाने और ले जाने के लिए विमानों और चालक दल की सेवा देने के लिए तैयार है।



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।