Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

CORONAVIRUS Pandemic: रेलवे की 15 अप्रैल से पैसेंजर सेवाएं शुरु करने की तैयारी, स्टॉफ को जारी किए निर्देश

हालाकि रेलवे पैसेंजर सेवाएं सरकार से हरी झंडी मिलने की बाद ही शुरु होगी।
अपडेटेड Apr 06, 2020 पर 07:59  |  स्रोत : Moneycontrol.com

कोरोना वायरस आउटब्रेक के बाद देश में घोषित 21 दिन के लॉकडाउन और उसकी वजह से रेलवे सेवाओं के बंद होने के बाद अब  15 अप्रैल से रेलवे अपनी सेवाएं फिर से शुरु करने की तैयारी में जुट गया है। इसके लिए सभी रेलवे सेफ्टी पर्सनल, रनिंग स्टॉफ, गार्ड्स, टीटीई और दूसरे अधिकारियों को कहा गया है कि वह 15 अप्रैल से अपनी जिम्मेदारी संभालनें फिर से तैयार रहें।


हालांकि रेलवे पैसेंजर सेवाएं सरकार से हरी झंडी मिलने की बाद ही शुरु होंगी। सरकार ने इस मुद्दे पर निर्णय लेने के लिए मंत्रियों के एक समूह का गठन किया है।


इस बीच रेलवे ने अपने सभी जोन के लिए एक रेस्टोरेशन प्लान जारी किया है जिसमें चलाई जाने वाली ट्रेनों उनकी फ्रिक्वेंसी और रैक्स की उपलब्धता से जुड़ी जानकारियां दी गई हैं।


सूत्रों के मुताबिक रेलवे के सभी 17 जोनों को अपनी सेवाओं को शुरु करने के लिए तैयार रहने को कहा गया है। सूत्रों के मुताबिक 15 अप्रैल से करीब 80 फीसदी ट्रेन अपने निर्धारित समय से चलने की उम्मीद है जिसमें राजधानी, शताब्दी, दूरंतो जैसी ट्रेन भी शामिल हैं। लोकल ट्रेनों के चलने की भी उम्मीद है।


सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस बात की संभावना है कि रेलवे सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग करेगा और कोरोना के संदर्भ में सरकार द्वारा निर्धारित प्रोटोकॉल का पालन करेगा।


रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों की तरफ से कहा गया है कि रेलवे के संचालन के संबंध में कोई नया ऑर्डर नहीं जारी किया गया है और रेलवे की तरफ से कैंसिलेशन सिर्फ 14 अप्रैल तक के लिए थे इसलिए 15 अप्रैल से रेलवे सेवाओं का प्रचालन शुरु करने के लिए किसी नए आदेश की जरुरत नहीं है।


सूत्रों के मुताबिक इस बारे में पक्का एक्शन प्लान इस हफ्ते सभी रेलवे जोन्स को भेजा जाएगा। बता दें कि 24 मार्च को पीएम मोदी द्वारा घोषित लॉकडाउन के बाद रेलवे ने अभूतपूर्व कदम उठाते हुए अपनी सभी 13523 रेलवे सेवाओं को 21 दिन के लिए बंद कर दिया था। हालांकि कि इस अवधि में रेलवे फ्रेट सेवाएं चलती रही है और उनमें कोई बाधा नहीं आई है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।