Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

COVID-19:महाराष्ट्र में तबलिगी जमात में शामिल लोगों की तलाश हुई तेज, जानिए राज्यों को क्या मिला आदेश

केंद्र सरकार ने दावा किया है कि दिल्ली के मरकज में हुए कार्यक्रम की वजह से पूरे देश में कोरोना का खतरा बढ़ गया है।
अपडेटेड Apr 02, 2020 पर 16:09  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

केंद्र सरकार ने दावा किया है कि दिल्ली के मरकज में हुए कार्यक्रम की वजह से पूरे देश में कोरोना का खतरा बढ़ गया है। पिछले 24 घंटे में कोरोना के जो मामले सामने आए हैं, उनमें ज्यादातर मरकज से जुड़े है।  ऐसे में निजामुद्दीन मामले में केंद्र सरकार एक्शन में आ गई है। इस मुद्दे पर कैबिनेट सेक्रेटरी ने राज्यों के मुख्य सचिवों और पुलिस महानिदेशकों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एक बैठक की। इसमें राज्यों को युद्ध स्तर पर जमात में शामिल लोगों के संपर्क में आए लोगों की पहचान करने के लिए कहा गया है। इसके अलावा राज्यों से तबलिगी जमात के आयोजकों और वीजा नियम की अनदेखी करके जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए विदेश नागरिकों  पर कार्रवाई करने को कहा गया है।


वहीं महाराष्ट्र में भी तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों की तलाश तेज कर दी गई है। अहमदनगर में तबलिगी जमात से जुड़े 34 लोग मिले हैं जिनमें से 5 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इन 5 लोगों में से दो विदेशी नागरिक हैं।  मरकज में शामिल हुए 60 लोगों की रिपोर्ट आना बाकी है।


इधर मुंबई के 6 इलाकों को भी सील कर दिया गया है। BMC ने वर्ली, प्रभादेवी, ताड़देव, मानखुर्द, गोवंडी और मलाड के कई इलाकों को रेड जोन घोषित करते हुए, इसे सील कर दिया है। इन इलाकों में 10 या 10 से अधिक मरीज मिले है।


बता दें कि देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामले बुधवार को बढ़कर 1800 पहुंच गए। हेल्थ मिनिस्ट्री ने बताया कि अब तक देश में 1834 मामले सामने आए हैं। पिछले 24 घंटों में 437 से ज्यादा मामले बढ़ चुके हैं। भारत में कोरोनावायरस का पहला केस 30 जनवरी को केरल में आया था।


कुल 1834 मामलों में से फिलहाल 1649 एक्टिव हैं। अभी तक 143 लोग इस खतरनाक संक्रमण से उबर चुके हैं। वहीं, करीब 41 लोगों की मौत हो चुकी है। देश में अभी 51 विदेशी नागरिक कोरोनावायरस से संक्रमित हैं।


राज्यों के हिसाब से देखें तो सबसे खराब स्थिति महाराष्ट्र की है। वहां अब तक कोरोनावायरस के 302 मामले आ चुके हैं और 9 लोगों की मौत हो चुकी है। दूसरे नंबर पर केरल है। वहां कुल 241 केस सामने आए हैंऔर दो लोगों की मौत हो चुकी है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।