Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

COVID-19: 3-5 महीनों में 4 कोरोना वैक्सीन आ सकती हैं क्लीनिकल ट्रायल फेज में :डॉ. हर्षवर्धन

हर्षवर्धन ने कहा कि भारत इस प्रयास में सक्रियता से योगदान कर रहा है। भारत में 14 टीकों पर विभिन्न चरणों में काम चल रहा है।
अपडेटेड May 26, 2020 पर 08:15  |  स्रोत : Moneycontrol.com

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि दुनिया भर में 100 से ज्यादा candidates कोरोना वैक्सीन के विकास पर काम कर रहे हैं और ये अगल-अलग स्तरों पर काम कर रहे हैं। WHO इस प्रयास में सहयोग कर रहा है।



स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने रविवार को कहा कि भारत में कोरोना वैक्सीन के विकास के लिए काम कर रहे कुल 14 में 4 कंडीडेट अगले 3-5 महीनों में क्लीनिकल ट्रायल फेज में पहुंच सकते हैं। बीजेपी के प्रवक्ता  जीवीएल नरसिम्हा राव से हुई ऑनलाइन बातचीत में स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आगे कहा कि कोरोना महामारी के संकट से निपटने के लिए पूरी दुनिया वैक्सीन बनाने का प्रयास कर रही है।


हर्षवर्धन ने आगे कहा कि भारत इस प्रयास में सक्रियता से  योगदान कर रहा है। भारत में 14  टीकों पर विभिन्न चरणों में काम चल रहा है। उन्होंने कहा कि इंडस्ट्री और विभिन्न शिक्षा और शोध संस्थान  इसमें अपना योगदान कर रहे हैं। विज्ञान मंत्रालय भी इन सभी प्रयासों में बॉयो टेक्नोलॉजी विभाग की मदद कर रहा है।


स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने इस ऑनलाइन बात चीत में कहा कि जो भी कोरोना वैक्सीन के विकास पर  काम कर रहा है उसे वित्तीय मदद और नियम के साथ अनुमति दी जाएगी। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि संभावित 14 टीकों में 4 अगले 3 से 5महीने में क्लीनिकल परीक्षण के दौर में पहुंच जाएंगे। अभी ये प्री क्लीनिकल परीक्षण के दौर में हैं।




सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।