Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

घरों पर अलग-अलग जीएसटी दर संभव

एक ही प्रोजेक्ट के अलग-अलग टावर्स की GST दर अलग अलग हो सकती है। सरकार ने इस पर सफाई दे दी है।
अपडेटेड May 09, 2019 पर 16:40  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

एक ही प्रोजेक्ट के अलग-अलग टावर्स की GST दर अलग अलग हो सकती है। सरकार ने इस पर सफाई दे दी है। GST काउंसिल के फैसले के मुताबिक बिल्डरों को नई या पुराने दर 10 मई तक चुनने की आज़ादी है। यही नहीं अगर किसी ग्राहक ने घर 1 अप्रैल से पहले बुक कराया है और अब वो इसे कैंसिल करना चाहता है तो बिल्डर को ग्राहक से ली गई GST वापस करनी होगी। 1 अप्रैल से पहले की बुकिंग कैंसिल कराने पर GST वापस होगी। CBIC भी बिल्डर को बाद में GST रिम्बर्स कर देगा। 1 अप्रैल 2019 के पहले लॉन्च प्रोजेक्ट में अलग-अलग GST दर संभव है। हालांकि निर्माणाधीन प्रोजेक्ट में बिल्डर दर चुनेगा। इसके लिए ITC के साथ 12 फीसदी या बिना ITC के 5 फीसदी के विकल्प मौजूद हैं। अलग-अलग टावर में अलग GST दर हो सकती है। 1 अप्रैल के बाद लॉन्च प्रोजेक्ट पर 5 फीसदी GST तय की गई है। वहीं, अफोर्डेबल यानी किफायती मकानों पर सिर्फ 1 फीसदी GST लगेगी।