Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

ई-कॉमर्स पर कसी जाएगी नकेल

प्रकाशित Thu, 01, 2018 पर 09:50  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

अब ई-कॉमर्स के ग्राहकों की शिकायतों को नजरअंदाज करना कंपनी को भारी पड़ सकता है। सीएनबीसी-अवाज को मिली जानकारी के मुताबिक ई-कामर्स कंपनियां ग्राहकों की शिकायतों का निपटारा कम से कम 4 लेवल पर करेंगी। कंज्यूमर अफेयर मंत्रालय इसके लिए 15 नवंबर तक ड्राफ्ट जारी कर सकता है। अब ग्राहकों की शिकायतें नजर अंदाज नहीं होगी। गलत डिलिवरी, प्रोडेक्ट की शिकायत पर कार्रवाई होगी।


अब कम से कम 4 लेवल पर कार्रवाई होगी। ग्राहक पहले कस्टमर केयर को संपर्क करेगा। असंतुष्ट होने पर नोडल ग्रीवांस अधिकारी से संपर्क करना होगा। चौथे लेवल पर कंज्यूमर प्रोटेक्शन अथॉर्टी से संपर्क करना होगा। कस्टमर को एपीलेट अथॉर्टी में अपील करने की आजादी होगी। इस पर कंज्यूमर अफेयर मंत्रालय ड्राफ्ट जारी करेगा। ये गाइडलाइंस नए साल से लागू हो सकती हैं अभी टेलीकॉम कंपनियां 3 लेवल तक ही शिकायतें सुनती हैं।