Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

इस बार इको फ्रेंडली गणपति उत्सव!

प्रकाशित Sat, 08, 2018 पर 14:59  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

गणेश चतुर्थी आने वाली है और आने वाले हैं गणपति भगवान। लेकिन इस बार गणपति पर्यावरण के विघ्नहर्ता बनकर आएंगे। इस गणपति और सजावट के सामान में मिट्टी और पेपरमैश का इस्तेमाल ज्यादा है।


ज्यादातर लोग इस बार मिट्टी और पेपरमैश के गणपति को घर ले जाना चाहते हैं। तीन पीढ़ियों से मूर्तियां बना रहे परिवार के सदस्य गणेश कहते हैं कि इको फ्रेंडली गणपति की मांग पहले भी रही है, मगर इतनी नहीं। मिट्टी की मूर्ति महंगी है और भारी भी, लेकिन पहले से 25-30 फीसदी ज्यादा मांग है। पेपरमैश का चलन भी जोर पकड़ रहा है।


सालों से कागज का सजावटी सामान बना रहे नानासाहेब शेंडकर भी कहते हैं कि इतनी मांग पहले नहीं देखी। इको फ्रेंडली गणपति उत्सव के पीछे सबसे बड़ी वजह है प्लास्टिक बैन। लोग नहीं चाहते कि उनकी पूजा प्रदूषण का कारण बने।