Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

यस बैंक घोटाले के आरोपी वाधवान बंधुओं को ईडी ने किया गिरफ्तार

विशेष न्यायालय द्वारा वाधवान बंधुओं को कोरोना संकट के आधार पर संरक्षण देने की उनकी अपील को नामंजूर कर दिये जाने के बाद गुरुवार शाम को ईडी के अधिकारियों ने दोनों भाईयों कपिल वाधवान और धीरज वाधवान को गिरफ्तार कर लिया।
अपडेटेड May 15, 2020 पर 16:18  |  स्रोत : Moneycontrol.com

 दो दिन पहले विशेष न्यायालय द्वारा वाधवान बंधुओं को कोरोना संकट के आधार पर संरक्षण देने की उनकी अपील को नामंजूर कर दिये जाने के बाद गुरुवार शाम को ईडी के अधिकारियों ने दोनों भाईयों कपिल वाधवान और धीरज वाधवान को गिरफ्तार कर लिया। ईडी ने इन्हें यस बैंक घोटाले के संबंध में इनकी भूमिका के चलते गिरफ्तार किया है। वाधवान बंधु दीवान हाउसिंग फाइनेंस (DHFL) के प्रवर्तक हैं।


महाराष्ट्र टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक यस बैंक के राणा कपूर द्वारा DHFL को दिये गये करीह 5.5 हजार करोड़ रुपये का कर्ज बट्टे खाते में डाल दिये हैं। ये कर्ज नियम के विरुद्ध दिये गये थे। इसमें भी सबसे मुख्य बात यह रही कि वाधवान बंधुओं ने इस कर्ज का दुरूपयोग कुख्यात डॉन इकबाल मिर्ची की जमीन खरीदने के लिए किया था। यह जानकारी ईडी की जांच में खुलकर सामने आई है। इसके बाद कुल मिलाकर इन सभी मामलों में जांच करने के लिए ईडी ने वाधवान  बंधुओं को गिरफ्तार किया है। राणा कपूर को पहले से ही ईडी ने सलाखों के पीछे डाल रखा है।


अधिकारियों ने कहा कि इन दोनों को मुंबई की विशेष अदालत में पेश किया गया, जहां न्यायलय ने उन्हें 10 दिनों के लिए ईडी की हिरासत में भेज दिया। उसी मामले में इससे पहले, सीबीआई ने वाधवान भाइयों को गिरफ्तार किया था। उस बीच लॉकडाउन के दौरान, वाधवान बंधुओं उनके परिवारों के साथ ने अवैध रूप से लोनावला से महाबलेश्वर की यात्रा की थी। उस समय उन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। ईडी ने अप्रैल में उनकी लग्जरी कार भी जब्त की थी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter


(https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।