Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

जीएसटी से महंगी हुई पढ़ाई

प्रकाशित Wed, 13, 2018 पर 17:31  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

जीएसटी में महंगा-सस्ता की चर्चा अब लगभग खत्म हो चुकी है, लेकिन बच्चों के मां-बाप को जीएसटी का असर अब पता चल रहा है। पिछले साल तो सेशन शुरू होने के बाद जीएसटी लागू हुआ था। लेकिन इस साल नोटबुक से लेकर स्कूल बैग तक के दाम बढ़े हुए मिल रहे हैं। ऊपर से पेट्रोल,डीजल की महंगाई के चलते बसों ने भी फीस बढ़ा दी है।
 
अहमदाबाद की जिगीषा माली छुट्टियां खत्म होने से पहले बच्चों की जरूरत का सामान लेने निकलीं तो पसीने आ गए। पिछले साल के मुकाबले इस साल नोटबुक्स, इंस्ट्रूमेंट बॉक्स, स्कूल बैग से लेकर वोटर बॉटल की कीमतों में 20 से 25 फीसदी तक की बढ़ोतरी दिख रही है। इधर स्कूल वैन वालों ने किराया बढ़ाकर 500 से 600 रुपए कर दिया है क्योंकि पेट्रोल, डीजल के दाम बढ़ गए हैं।


पिछले साल 1 जुलाई को जब जीएसटी लागू हुआ तब बच्चों के स्कूल के लिए जरुरी खरीदारी हो चुकी थी। इसलिए जीएसटी का असर अब पता चल रहा है। नोटबुक्स पर 12 फीसदी और दूसरे स्कूल आइटम्स पर 18 फीसदी तक जीएसटी लागू हो गयी है। दुकानदार कह रहे हैं कि महंगाई के चलते लोग खुलकर खरीदारी नहीं कर रहे हैं और धंधा मंदा है। बच्चों की पढ़ाई लोगों की पहली प्राथमिकता है। ऐसे में यहां कटौती की खास गुंजाइश भी नहीं है।