Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

FM ने दिए संकेत, बैंक में जमा रकम के इंश्योरेंस की बढ़ाई जा सकती है सीमा

बैंक के डूबने पर जमाकर्ताओं को सिर्फ 1 लाख रुपये से संतोष नहीं करना पड़ेगा क्योंकि सरकार जमा रकम के इंश्योरेंस की इस सीमा को बढ़ाने पर विचार कर रही है।
अपडेटेड Nov 18, 2019 पर 08:46  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बैंक के डूबने पर जमाकर्ताओं को सिर्फ 1 लाख रुपये से संतोष नहीं करना पड़ेगा क्योंकि सरकार जमा रकम के इंश्योरेंस की इस सीमा को बढ़ाने पर विचार कर रही है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारामण ने कहा कि अगले सत्र में इसके लिए कानून में जरुरी बदलाव किया जा सकता है।


बैंक डूबने पर मिलेगी ज्यादा रकम


वित्त मंत्री ने निर्मला सीतारामन ने साफ कर दिया है कि बैंक डूबने पर अब जमाकर्ताओं को 1 लाख रुपये से ज्यादा रकम दी जायेगी जिसके लिए सरकार सख्त नियम लाएगी और उस नियम को को-ऑपरेटिव बैंकों पर भी लागू किया जायेगी। संसद के अगले सत्र में इसके लिए कानून में जरुरी बदलाव मुमकिन है।


इक्विटी मार्किट में टैक्स घटेगा?


FM ने कहा कि इक्विटी मार्किट में टैक्स कटौती पर सरकार अलग-अलग कई प्रस्तावों पर विचार कर रही है। उन्होंने कहा कि अभी हम बजट के करीब है, कुछ नहीं कह सकते।


टेलीकॉम सेक्टर को राहत?


टेलीकॉम कंपनियों को राहत पर अभी अंतिम फैसला नहीं हुआ है। सचिवों के समूह ने ड्राफ्ट रिपोर्ट तैयार किया है। FM का कहना है कि सरकार नहीं चाहेगी, कि कोई भी कंपनी बंद हो।


रियल एस्टेट सेक्टर को राहत


रियल एस्टेट सेक्टर को मिले राहत पैकेज के ऐलान के 40 दिन के अंदर काम शुरू होगा। मुंबई, अहमदाबाद, बंगलुरू के चार प्रोजेक्ट के लिए प्रस्ताव आया है। हालांकि दिल्ली-NCR के किसी प्रोजेक्ट का प्रस्ताव नहीं आया है।
 
ग्रोथ पर सस्पेंस


FM का कहना है कि दूसरी छिमाही में ग्रोथ को लेकर अभी कुछ कहना ठीक नहीं है। टैक्स क्लेक्शन कितना होगा, अभी अनुमान नहीं लगाया जा सकता। विनिवेश के रास्ते पर संतोषजनक प्रगति की उम्मीद है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।