Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

FMCG शेयरों पर फोकस बढ़ने की क्या है वजह, जानिए आगे कैसी रहेगी इनकी चाल

FMCG शेयर आज खासे फोकस में हैं। ये कंपनियां अपनी सेल्स बढाने के लिए कई तरह के इनोवेटिव करार कर रही हैं
अपडेटेड May 21, 2020 पर 08:38  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

FMCG शेयर आज खासे फोकस में हैं। दरअसल, ये कंपनियां अपनी सेल्स बढाने के लिए कई तरह के इनोवेटिव करार कर रही हैं, जिनकी डीटेल्स हम यहां नीचे दे रहे हैं। सबसे पहले नजर डाल लेते हैं Index Peformance पर Nifty अपने मार्च लो से अब तक 2 फीसदी रिटर्न दिया है। वहीं इस साल अब तक इसने 26 फीसदी का निगेटिव रिटर्न दिया है। उधर Nifty FMCG ने अपने मार्च लो से अब तक 5 फीसदी रिटर्न दिया है। वहीं इस साल अब तक इसने 9 फीसदी का निगेटिव रिटर्न दिया है।


FMCG के टॉप मूवर्स पर नजर डालें तो Britannia नें मार्च के अपने निचले स्तर से अब तक 27 फीसदी का रिटर्न दिया है। वहीं इस साल अब तक इसने 4 फीसदी का  रिटर्न दिया है। Marico नें मार्च के अपने निचले स्तर से अब तक 24 फीसदी का रिटर्न दिया है। वहीं इस साल अब तक इसने 7 फीसदी का निगेटिव रिटर्न दिया है। Colgate ने मार्च के अपने निचले स्तर से अब तक 18 फीसदी का रिटर्न दिया है। वहीं इस साल अब तक इसने 5 फीसदी का निगेटिव रिटर्न दिया है। Nestle ने मार्च के अपने निचले स्तर से अब तक 16 फीसदी का रिटर्न दिया है। वहीं इस साल अब तक इसने 11 फीसदी का  रिटर्न दिया है। Godrej Con ने मार्च के अपने निचले स्तर से अब तक 13 फीसदी का रिटर्न दिया है। वहीं इस साल अब तक इसने 18 फीसदी का निगेटिव रिटर्न दिया है। ITC ने मार्च के अपने निचले स्तर से अब तक 0.34 फीसदी का रिटर्न दिया है। वहीं इस साल अब तक इसने 26 फीसदी का निगेटिव रिटर्न दिया है। HUL ने मार्च के अपने निचले स्तर से अब तक 2.5 फीसदी का निगेटिव रिटर्न दिया है। वहीं इस साल अब तक इसने 4 फीसदी का रिटर्न दिया है। Dabur ने मार्च के अपने निचले स्तर से अब तक 1 फीसदी का निगेटिव रिटर्न दिया है। वहीं इस साल अब तक इसने 4 फीसदी का रिटर्न दिया है।



FMCG कंपनियां फोकस में क्यों है इस पर नजर डालें तो इसकी वजह ये है कि कंपनियां ग्राहकों तक पहुंचने के लिए innovative करार कर रही हैं। Marico ने Swiggy & Zomato पर Saffola Store लॉन्च किए हैं। Marico ने लास्ट माइल डिलिवरी सर्विस भी शुरू की है। Marico ने Uber और Big Basket के साथ लास्ट माइल डिलिवरी शुरू की है। ITC ने essential items की डिलिवरी के लिए dominos से करार किया है। ITC ने swiggy, zomato, apna complex, no broker, azgo से भी करार किया है।  ITC ने Aashirvaad, Yippee!, Sunfeast, B Natural, Savlon, Fiama ब्रांड्स की होम डिलिवरी शुरू की है। Godrej Consumer ने Zomato, Dunzo से करार किया है।  Godrej Consumer का Shop Kirana, Zoomcar से भी पार्टनरशिप करार है। Tata Consumer ने भी अपने डिस्ट्रिब्यूटर्स को Flipkart पर लिस्ट किया है। इस तरह के करार दोनों पार्टनर्स के लिए अच्छे हैं। ये करार FMGC कंपनियों की बिक्री बढ़ाने में मददगार होंगे। इन करारों से FMCG कंपनियां ई-कॉमर्स का भी पूरा फायदा उठा सकेंगी।  देश की FMCG बिक्री में e-commerce का हिस्सा 2 फीसदी हिस्सा है। Nielsen रिपोर्ट के मुताबिक FMCG बिक्री में ई-कॉमर्स का हिस्सा बढ़ेगा। 2022 तक FMCG बिक्री में e-commerce का हिस्सा बढ़कर 5 फीसदी होने का अनुमान है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।