Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम से सरकार को 1500 करोड़ का नुकसान, सरकार कर सकती है स्कीम की समीक्षा!

गोल्ड स्कीम पर सरकार का खर्च 18-19 प्रतिशत है।
अपडेटेड Feb 28, 2020 पर 10:59  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

घरों में पड़े सोना निकालने के लिए सरकार ने जो गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम शुरू की थी वह सरकार को महंगी पड़ने लगी हैं। अब तक इस स्कीम से सरकार को करीब  1500 करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है और जैसे-जैसे गोल्ड की कीमतें बढ़ती जा रही है यह नुकसान और बढ़ने का खतरा है। CNBC-AWAAZ को मिली exclusive जानकारी के मुताबिक ऐसे में सरकार इस स्कीम की समीक्षा कर सकती है।


गोल्ड स्कीम बनी मुसीबत


सीएनबीसी-आवाज़ के सूत्रों के अनुसार गोल्ड मोनेटाइजेशन स्कीम से सरकार को नुकसान हो रहा है। इससे अब तक सरकार को करीब 1500 करोड़ का नुकसान हुआ है। सूत्रों के मुताबिक सोने की कीमतें बढ़ने के साथ नुकसान बढ़ने का खतरा हो गया है। सरकार स्कीम की शर्तों की समीक्षा कर सकती है। यह स्कीम 2005 में शुरू की गई थी, तब गोल्ड की कीमत करीब 2500 प्रति प्रति ग्राम थी।


सूत्रों के अनुसार गोल्ड स्कीम पर सरकार का खर्च 18-19 प्रतिशत है। कंपनी का Handling Charges, Commission, ब्याज के तौर पर 200 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं। दूसरी सॉवरेन डेट के मुकाबले खर्च काफी ज्यादा है। उधर गोल्ड बेचने से MMTC को सिर्फ 32 करोड़ रुपये का फायदा हुआ है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।