Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

HDFC ने दिया दिवाली गिफ्ट, लोन पर इंट्रेस्ट रेट 0.10 फीसदी घटाया

नई दरें 15 अक्टूबर से लागू होंगी, जिसमें नए और पुराने ग्राहक सभी शामिल हैं।
अपडेटेड Oct 15, 2019 पर 11:39  |  स्रोत : Moneycontrol.com

देश की सबसे बड़ी हाउसिंग फाइनेंस कंपनी HDFC ने अपने ग्राहकों को दिवाली तोहफा दिया है। बैंक ने फ्लोटिंग लोन पर इंट्रेस्ट रेट में 10bps यानी 0.10 फीसदी की कटौती की है। फेस्टिव सीजन को देखते हुए ग्राहकों के लिए बैंक ने बहुत बड़ी राहत दी है। इस कटौती से बैंक भी उस लिस्ट में शामिल हो गया है, जिसमें अन्य बैंकों ने इंट्रेस्ट रेट में कटौती की है।


बता दें कि RBI ने रेपो रेट में कटौती कर दी है। जिससे बैंकों पर भी दबाव है कि वो अपने ग्राहकों को इसका फायदा दें।


कंपनी ने जारी किए गए बयान में कहा कि इस कटौती का फायदा नए और पुराने ग्राहक दोनों को मिलेगा। ये नई दरें 15 अक्टूबर से लागू होंगी। वहीं सैलरी क्लास के लोगों के लिए नया इंट्रेस्ट रेट 8.25 फीसदी से लेकर 8.65 फीसदी के बीच होगा।


RBI ने फरवरी 2019 से लेकर अब तक 1.35 फीसदी रेपो रेट में कटौती कर चुका है। उसके बाद से कई बैंकों ने इंट्रेस्ट रेट में कटौती की है। HDFC से पहले SBI भी इंट्रेस्ट रेट में 0.10 फीसदी की कटौती कर चुका है। इसके साथ ही SBI ने MCLR में 10 आधार अंक घटा दिया है। यानी 0.10 फीसदी की कटौती कर दी है। इस नई कटौती के बाद MCLR 8.15 फीसदी से घटकर 8.05 फीसदी प्रति वर्ष हो गया। नई दर 10 अक्टूबर 2019 से लागू हो चुकी हैं।


इसके पहले RBI ने एक सकुर्लर जारी कर बैंकों के लिए यह अनिवार्य कर दिया था कि कि सभी बैंक पर्सनल या रिटेल या  MSME के लिए सभी नए लोन की फ्लोटिंग ब्याज दर को एक बाहरी बेंचमार्क से जोड़ दें। लिहाजा पिछले महीने SBI ने RBI के दिशा-निर्देशों के तहत MSME, हाउसिंग और रिटेल लोन को एक्सटर्नल बेंचमार्क के तहत लोन देने की घोषणा की थी।    


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।