Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

होटल का धंधा चौपट, अनलॉक में छूट के बाद भी ज्यादातर रेस्त्रां बंद

अनलॉक में रेस्टोरेंट्स-होटल खुले जरूर हैं लेकिन उनके लिए कारोबार चालू रखना मुश्किल होता जा रहा है।
अपडेटेड Jul 11, 2020 पर 15:31  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

अनलॉक में रेस्टोरेंट्स-होटल खुले जरूर हैं लेकिन उनके लिए कारोबार चालू रखना मुश्किल होता जा रहा है। एक के बाद एक कर कई बड़े रेस्टोरेंट पर ताला लग गए हैं। दिल्ली खान मार्केट का मशहूर फुल सर्किल बुक स्टोर और टर्टल कैफे अब यहां से हमेशा के लिए बंद हो गया है। ठीक सामने चैटर हाउस पर भी ताला लग गया है। खान मार्केट का कैफे कॉफी डे भी बंद है। रेस्टोरेंट मालिकों का कहना है कोरोना की वजह से इतना ज्यादा किराया देना अब संभव नहीं है। यही हाल कनॉट प्लेस और दिल्ली के बाकी बड़े बाजारों के रेस्टोरेंट्स का भी है।


अधिकतर रेस्टोरेंट ऑनर किराए पर प्रॉपर्टी लेते हैं। बड़े बाजारों में किराया कई लाख रुपए हर महीने तक चला जाता है। लेकिन कारोबार ठप होने से रेस्टोरेंट्स या तो खुल नहीं पा रहे हैं या उन पर हमेशा के लिए ताला लग गया है।


कोरोना की मार के बाद लैंडलॉर्ड की तरफ से रियायत नहीं मिलने से रेस्टोरेंट मालिकों की मुश्किल और बढ़ गई है। ऐसे में हॉस्पिटैलिटी बिजनेस के जानकारों का कहना है कि अगर यही हाल रहा तो अगले कुछ महीनों में दिल्ली के 30 परसेंट से ज्यादा रेस्टोरेंट बंद होने की कगार पर आ जाएंगे।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।