Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

आरबीआई की पॉलिसी से ग्रोथ को कितनी मिलेगी धार

प्रकाशित Thu, 07, 2019 पर 16:46  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांता दास ने अपनी पहली पॉलिसी में ही सुपर गवर्नर वाला काम कर दिखाया। उन्होंने रेपो रेट में 0.25 फीसदी की कटौती कर दी है जिसके बाद रेपो रेट 6.25 फीसदी हो गया है। दरें घटने का सीधा मतलब ये है कि बैंकों को आरबीआई से सस्ता कर्ज मिलेगा यानि आम आदमी के लिए भी कर्ज सस्ता हो जाएगा।




इतना ही नहीं आगे के लिए भी अच्छे संकेत दिए हैं। आरबीआई का रेट कट कितना बड़ा बूस्टर है, ग्रोथ को कितनी धार मिलेगी, क्या महंगाई आगे नहीं भड़केगी, रेट में नरमी को बाजार आगे कैसे देखेगा, ऐसे तमाम सवालों पर चर्चा करने के लिए सीएनबीसी-आवाज़ के साथ खास एक्सपर्ट जुड़े हैं। इंडिया इंफोलाइन के एग्जीक्यूटिव वाइस प्रेसिडेंट संजीव भसीन, एक्सिस बैंक के चीफ इकोनॉमिस्ट सौगत भट्टाचार्य और फेडरल बैंक के आशुतोष खजूरिया।




बता दें कि आरबीआई पॉलिसी में गर्वनर शक्तिकांता दास ने आज कहा कि इंफ्लेशन के साथ ग्रोथ का भी खयाल रखा गया है। वित्त वर्ष 2020 की पहली छमाही में महंगाई के 4 फीसदी से नीचे रहने का अनुमान है। ऐसे में आगे और ब्याज दरों में कटौती की गुंजाइश रहेगी।