Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

Toll Payment के लिए अनिवार्य होंगे FASTags, लेकिन क्या आपको पता है ये मिलेगा कैसे?

व्हीकल ओनर्स टोल प्लाजा, FASTags जारी करने वाली एजेंसी या बैंक या ऑनलाइन मार्केट से ले सकते हैं।
अपडेटेड Aug 26, 2019 पर 09:00  |  स्रोत : Moneycontrol.com

अब तक तो आपको इसकी जानकारी हो गई होगी कि टोल प्लाजा पर पेमेंट के लिए 1 दिसंबर, 2019 से FASTags अनिवार्य कर दिया गया है। 19 अगस्त को मिनिस्ट्री ऑफ रोड ट्रांसपोर्ट एंड हाईवेज़ ने घोषणा की थी कि 1 दिसंबर, 2019 से देश भर में नेशनल हाईवे पर टोल प्लाजा के सभी लेन FASTags लेन बन जाएंगे।
 
क्या है FASTags और क्या है उद्देश्य?
 
सरकार इस कदम से नेशनल हाईवे पर ट्रैफिक और भीड़भाड़ की स्थिति को कम करना चाहती है। FASTags सरकार की ओर से जारी किए जाने वाले स्मार्टकार्ड या प्रीपेड टैग होंगे, जिनसे टोल चुकाया जा सकेगा। ये टैग टोल प्लाजा क्रॉस करने पर ऑटोमेटिकली टोल भर देंगे, जिससे कि गाड़ियों को रुककर कैश में पेमेंट नहीं करना पड़ेगा।
 
बता दें कि एक बार एक्टिवेट कर दिए जाने पर FASTags को गाड़ी की विंडस्क्रीन पर लगा दिया जाएगा।
 
कैसे मिलेगा FASTags, क्या है प्रोसेस?
 
व्हीकल ओनर्स टोल प्लाजा, FASTags जारी करने वाली एजेंसी या बैंक या ऑनलाइन मार्केट से ले सकते हैं।
 
SBI, HDFC और ICICI FASTags इशू करते हैं। यहां से टैग लेने के लिए आपको सबसे पहले ऑनलाइन इन्क्वायरी फॉर्म भरना होगा। क्वरी जनरेट होने के बाद आपको बैंक के ब्रांच पर जाना होगा और जरूरी फॉर्म होने होंगे। इसके लिए आपको जरूरी डॉक्यूमेंटेशन प्रोसेस से गुजरना होगा।
 
किन डॉक्यूमेंट्स की जरूरत होगी?
 
इसके लिए गाड़ी के ओनर की पासपोर्ट साइज की फोटोग्राफ, गाड़ी का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट और ओनर के पहचान और पते के वेरिफिकेशन के लिए PAN, Aadhaar या ड्राइविंग लाइसेंस चाहिए होगा।
 
क्या होगा चार्ज?
 
ध्यान दें कि टैग इशू जारी करने वाली अथॉरिटी आपसे एक बार 200 की रजिस्ट्रेशन फीस लेगी। इसके अलावा आपकी गाड़ी के टाइप के अनुसार आपसे एक डिपॉजिट अमाउंट लिया जाएगा, जो बाद में FASTag अकाउंट बंद करवाने पर रिफंड कर दिया जाएगा।
 
FASTags को आप नेटबैंकिंग, डेबिट-क्रेडिट कार्ड या NEFT-RTGS से रिचार्ज कर सकते हैं। हां, ऑनलाइन रिचार्ज करने पर आपको सुविधा शुल्क देना होगा।




सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।