Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

तैयार है स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, 31 अक्टूबर को उद्घाटन

प्रकाशित Sat, 27, 2018 पर 17:45  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

गुजरात में सरदार सरोवर डैम पर स्टैच्यू ऑफ यूनिटी बनकर तैयार है। 31 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसका लोकार्पण करेंगे। आइये जानते हैं कि कैसी है सरदार बल्लभ भाई पटले की ये प्रतिमा और क्या खास है इसमें।


सरदार सरोवर डैम की निगरानी करती स्टैच्यू ऑफ यूनिटी विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा है। आजादी के बाद भारत को एक सूत्र में बांधने वाले सरदार वल्लभ भाई पटेल की ये मूर्ति 182 मीटर ऊंची है। अत्याधुनिक तकनीक से बनी ये विशालकाय संरचना ना तो भूकंप में हिलेगी ना बिजली गिरने से इसे कोई आंच आएगी।


इस प्रतिमा में 550 ब्लॉक हैं। इसके निर्माण में दुनिया भर की टीमों ने काम किया है। इंजीनियर और मजदूर भारतीय हैं, कंसल्टेंट इंग्लैंड से हैं, वेंडर चीन, जर्मनी और अमेरिका से हैं।


गुजरात सरकार स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को वैश्विक स्तर का टूरिज्म स्पॉट बनाना चाहती हैI इसके लिए यहां से 28 किलोमीटर की दूरी पर आये राजपिपला एयर स्ट्रिप को एअरपोर्ट में तब्दील करने का प्रस्ताव भी भेजा हैI केंद्रीय उड्डयन मंत्रालय को इसके लिए चिठ्ठी भी लिखी हैI अगर ऐसे होता है तो केवल सड़क के जरिये ही नहीं बल्कि हवाई मार्ग से भी आप स्टैच्यू ऑफ यूनिटी तक पहुंच सकते हैंI


इसे टूरिस्ट स्पॉट बनाने के मुकम्मल इंतजाम किए गए हैं। स्टैच्यू ऑफ यूनिटी में में लेजर लाइटिंग की व्यवस्था है। स्टैच्यू के नीचे एक म्यूजियम है। प्रतिमा के अंदर 2 हाई स्पीड लिफ्ट लगी है और छाती के पास झरोखे बने हैं जहां से आप डैम को निहार सकेंगे। लेकिन यहां पहुंचने के लिए आप को 300 रुपये की फीस चुकानी होगीI स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से 3 किलोमीटर की दूरी पर एक टेंट सिटी बनाई गई है, जहां आप रात भर रुक भी कर सकते हैं। यहां 3 से 8 हजार प्रति दिन के खर्च पर तीन कैटेगरी टेंट में पैकेज लिया जा सकता है। वहीं सैलानियों को स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, सरदार सरोवर डैम और आसपास के पर्यटन स्थलों की जानकारी देने के लिए गुजरात टूरिज्म ने 60 गाइड्स भी तैयार किए हैं।