Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

Ind-Swift 1,530 करोड़ रुपये में PI Industries को बेचेगी API कारोबार

इस डील को निदेशक मंडल और शेयरधारकों की मंजूरी मिल गई है
अपडेटेड Aug 01, 2021 पर 12:15  |  स्रोत : Moneycontrol.com

Ind-Swift Laboratories अपने सक्रिय फार्मास्युटिकल इनग्रेडिएंट्स (API) कारोबार को PI इंडस्ट्रीज (PI Industries) को 1,530 करोड़ रुपये में बेचेगी। एक प्रेस रिलीज में दवा कंपनी ने सूचित किया कि बिक्री को उसके निदेशक मंडल द्वारा 30 जुलाई को मंजूरी दे दी गई है और शेयरधारकों की रजामंदी भी मिल गई है।


वित्त वर्ष 2021 के लिए एपीआई व्यवसाय का टर्नओवर 856.58 करोड़ रुपये था, जिसमें वित्त वर्ष के लिए कंपनी की कंसोलिडेटेड आय 100 प्रतिशत शामिल है। वहीं मार्च 2021 तक इसकी नेट वर्थ 289.99 करोड़ रुपये रही है।


बिक्री 21 अक्टूबर, 2021 को पूरी हो जाने की उम्मीद है जो कि मंजूरी और समापन शर्तों के अधीन होगी। प्रेस रिलीज में कहा गया है कि बिक्री पूरी होने के बाद कंपनी स्टॉक एक्सचेंजों को सूचित करेगी।


कंपनी ने कहा कि इस बिक्री का कारण धन जुटाना, सभी मौजूदा कर्जों का पुनर्भुगतान करना और Ind-Swift को कर्ज मुक्त बनाना है। इसके साथ ही बचे हुए पैसों को लंबे समय के लिए शेयरधारक (stakeholder) की वैल्यू बढ़ाने के लिए रणनीतिक निवेश और अधिग्रहण करने में उपयोग किया जाना है।


PI Industries उदयपुर, राजस्थान में स्थित एक बीएसई और एनएसई लिस्टेड कंपनी (BSE and NSE listed company) है। PI Industries कंपनी Ind-Swift के प्रमोटर या प्रमोटर समूह या समूह कंपनियों का हिस्सा नहीं है और इससे  लिस्टेड इकाई की शेयरधारिता पर कोई बदलाव नहीं होगा। 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।