Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

ग्लोबल टूरिज्म रैंकिंग में चमका भारत, हर साल आते हैं करोड़ों विदेशी सैलानी

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की ट्रैवल एंड टूरिज्म रिपोर्ट 2019 में भारत 34वें नंबर पर आ गया है।
अपडेटेड Sep 13, 2019 पर 16:55  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

दुनिया का थिंक टैंक वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम कहता है कि टूरिज्म में भारत अमेरिका और यूरोपियन देशों से भी तेज तरक्की कर रहा है। वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की ट्रैवल एंड टूरिज्म रिपोर्ट 2019 में भारत 34वें नंबर पर आ गया है। 4 साल पहले हम 52वें नंबर पर थे। 4 साल में 18 रैंक की ऐसी छलांग दुनिया के किसी देश ने नहीं लगाई है। 140 देशों की रैंकिंग में टॉप के 35 देश दुनिया के विकसित देश कहलाते हैं। इकलौते हम हैं जो लो-मिडिल इनकम कंट्री होने के बावजूद पर्यटन के लिए दुनिया भर के फेवरेट हैं। तो जब विदेश भारत देखने आ रहे हैं तो क्या हमें अपना देश नहीं देखना चाहिए। आपको याद होगा प्रधानमंत्री मोदी ने 15 अगस्त को कहा था कि हमें अगले 3 साल में 15 देसी टूरिस्ट प्लेस पर जाना चाहिए। इससे हमें घूमने का मजा आएगा और देश की तरक्की को रफ्तार भी मिलेगी। मगर कैसे बनाएं देश देखने का प्लान। कितने साल लगेंगे, कितना खर्च आएगा। और हम क्या क्या देख पाएंगे। 2017 में देश में 1.5 करोड़ विदेशी पर्यटक आए थे। ट्रैवल, टूरिज्म में देश में 2.8 करोड़ लोगों को रोजगार मिलता है। देश की GDP में ट्रैवल और टूरिज्म का 3.6 फीसदी योगदान है।


 


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।