Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

देश की घरेलू वेल्थ में हुई ग्रोथ, लोन में हुआ इजाफा: Credit Suisse study

देश की 78 फीसदी एडल्ट पॉपुलेशन के पास 10,000 डॉलर से कम की संपत्ति है, जबकि भारत की 1.8 फीसदी आबादी के पास 100,000 डॉलर से अधिक है।
अपडेटेड Oct 22, 2019 पर 14:00  |  स्रोत : Moneycontrol.com

देश में भले ही आर्थिक सुस्ती छाई हो, विकास दर में गिरावट आई हो। सरकार को आर्थिक मामले में कई तरह की परेशानियों से जूझना पड़ रहा हो। इन सबके बीच एक ऐसी रिपोर्ट आई है, जिसका एक बार में भरोसा करना थोड़ा मुश्किल हो सकता है। लेकिन इस रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि देश में घरेलू संपत्ति में इजाफा हुआ है।


दरअसल स्विटजरलैंड की बैंकिग सर्विस देने वाली Credit Suisse ने एक स्टडी रिपोर्ट में कहा है कि भारत में लोन में इजाफा हुआ है। सोमवार को जारी Credit Suisse रिपोर्ट में भारत की कुल घरेलू संपत्ति में 5.2 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि प्रति एडल्ट नेट वेल्थ 3.3 फीसदी की दर से बढ़ी है, जो कि 20 सालों से 2019 में औसतन 11 फीसदी वृद्धि के मुकाबले काफी कम है।


भारत, हालांकि दुनिया में तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था वाला देश है। जिसमें घरेलू संपत्ति अन्य के मुकाबले काफी तेजी से बढ़ रही है।


कुल मिलाकर इस पूरी रिपोर्ट में कहा गया है कि साल 2018-19 में  फाइनेंशियल एसेट्स में 1.4 फीसदी की मामूली बढ़त देखने को मिली, जबकि नॉन फाइनेंशियल एसेट्स 6.9 फीसदी बढ़ोतरी हुई। 


पिछली बार साल 2017-18 में घरेल संपत्ति काफी धीमी गति से बढ़ी थी, जब इसमें 2.6 फीसदी विस्तार हुआ था। लेकिन इस समय रुपये में तेजी से गिरावट आई थी।


साल 2018-19 में देश की संपत्ति (Asset)  की कीमतें तकरीबन 6 फीसदी की धीमी गति से बढ़ीं लेकिन foreign exchange का उतार चढ़ाव फायदे का सौदा रहा।
रिपोर्ट में अनुमान जताया गया है कि प्रति व्यक्ति आय 14,569 डॉलर (तकरीबन 10.31 लाख रुपये) है। भारत में कुछ लोगों की अधिक संपत्ति होने के कारण प्रति व्यक्ति आय बढ़ गई है। 


इस रिपोर्ट में अनुमान जताया गया है कि देश की 78 फीसदी एडल्ट पॉपुलेशन के पास 10,000 डॉलर से कम की संपत्ति है, जबकि भारत की 1.8 फीसदी आबादी के पास 100,000 डॉलर से अधिक है।


दूसरे मामलों में 1790 व्यक्तियों के पास 100 मिलियन डॉलर से अधिक की संपत्ति है। भारत में दुनिया के 2 फीसदी करोड़पति है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।