Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

जनधन अकाउंट: जीरो बैलेंस अकाउंट में मिलते हैं ये बड़े फायदे

अगर आपका कोई भी सेविंग अकाउंट है और उसमें मिनिमम बैलेंस नहीं है तो बैंक इस पर जुर्माना वसूलते हैं। जबकि जनधन अकाउंट में ऐसा नहीं है।
अपडेटेड Dec 03, 2019 पर 13:37  |  स्रोत : Moneycontrol.com

मोदी सरकार ने साल 2014 में गरीब और बैंकिंग सेक्टर से दूर रहने वाले लोगों को बैंक से जोड़ने के मकसद से जनधन अकाउंट की शुरुआत की थी। पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत इस योजना की घोषणा 15 अगस्त 2014 को थी और इसका शुभारंभ 28 अगस्त से किया।


जनधन अकाउंट की शुरुआत जोरशोर से हुई। बहुत से लोगों ने इस योजना से जुड़ना शुरु कर दिया। इसकी खासियत यह थी कि इसे कोई भी जीरो बैलेंस पर अपना खाता खुलवा सकता है। इससे आपका बीमा, ओवरड्राफ्ट और पूरे देश में कहीं भी मनी ट्रांसफर कर सकते हैं।


मिनिमम बैलेंस की नहीं है जरूरत


अगर आप किसी बैंक में नॉर्मल तरीके से सेविंग अकाउंट खुलवे हैं तो आपको अपने अकाउंट में एक मिनिमम बैलेंस बना कर रखना पड़ा है। प्राइवेट बैंकों में तो 10,000 रुपये तक बैलेंस बना कर रखना पड़ता है। अगर आपने मिनिमम बैलेंस बनाकर नहीं रखा तो फिर बैंक अकाउंट होल्डर से जुर्माना वसूलते हैं। लिहाजा ऐसे में बहुत से गरीबों को अपने बैंक अकाउंट में मिनिमम बैलेंस बनाए रखना मुश्किल होता है। इसलिए गरीबों के लिए जनधन अकाउंट किसी वरदान से कम नहीं है। जनधन अकाउंट में मिनिमम बैलेंस की कोई जरूरत नहीं है। यानी इसे जीरो बैलेंस पर खुलवाया जा सकता है। इस अकाउंट की खासियत यह है कि अगर आपके आकाउंट में बैलेंस है तो बैंक उस पर ब्याज देगा। इसमें उतनी ही ब्याज मिलेगी, जितनी अन्य अकाउंट होल्डर्स को मिलती है।


मिलती हैं ये खास सुविधा


जनधन अकाउंट में अकाउंट होल्डर को ओवरड्रॉफ्ट की सुविधा, RuPay डेबिट कार्ड और बीमा कवर मिलता है। ओवरड्रॉफ्ट की सुविधा पाने के लिए आपके अकाउंट को 6 महीना पूरा करना होगा। आपके द्वारा अकाउंट में बेहतर बैलेंस बनाए रखने और बेहतर  ट्रांजेक्शन को देखते हुए ओवरड्रॉफ्ट की सुविधा मिलती है। इसमें 5,000 रुपये का ओवरड्रॉफ्ट मिलता है। साथ ही RuPay डेबिट कार्ड मिलता है। जिसके जरिए वो ओवरड्रॉफ्ट की सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। इसके अलावा बेहतर रिपेमेंट को देखते हुए उसे लोन की भी सुविधा मिलती है।


जिन लोगों ने अपना जनधन अकाउंट 15 अगस्त 2014 से 26 जनवरी 2015 के बीच खुलवाया है उनकी पात्रता शर्तों के आधार पर 30,000 रुपये का लाइफ इंश्योरेंस कवर भी मिलता है। 


कुल मिलाकर जनधन अकाउंट के जरिए जो गरीब तबके के लोग बैंकिंग सेक्टर से कोसों दूर थे, उन्हें बैंकिंग सेक्टर से जुड़ने का अवसर तो मिला ही साथ ही बीमा कवर, ओवर ड्रॉफ्ट जैसी सुविधाएं भी मिल गईं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।