Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

VEDANTA के ओपन ऑफर में क्या करें, जानिये पूरी डिटेल्स और फायदे की रणनीति

कंपनी ने 17 प्रतिशत शेयर 235 रुपये पर खरीदने का ऑफर दिया है। ये ऑफर आज यानी 23 मार्च से 7 अप्रैल तक खुला है
अपडेटेड Mar 23, 2021 पर 22:51  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

VEDANTA के प्रोमोटर्स एक बार फिर शेयर बायबैक के लिए ओपन ऑफर लेकर आ गए हैं। ये तीसरा मौका है जब प्रोमोटर्स कंपनी को डीलिस्ट कराने के लिए ओपन ऑफर लेकर आए हैं लेकिन इस बार ऑफर प्राइस बढ़ाकर 235 कर दी है। सवाल ये उठता है कि इस ऑफर में आपको शेयर टेंडर करना चाहिए या नहीं इसी पर हम बात करेंगे। इस खास शो में सीएनबीसी-आवाज़ के साथ मोतीलाल ओसवाल के हेमांग जानी और हमारे सहयोगी यतिन मोता जुड़ गये हैं।


वेदांता रिसोर्स ने 16 मार्च को अपने शेयरों के ओपन ऑफर के प्राइस को बढा़कर 235 रुपये प्रति शेयर कर दिया था। बता दें कि कंपनी ने इसके पहले 10 प्रतिशत शेयर 160 रुपये प्रति शेयर के भाव पर खरीदने का ओपन ऑफर रखा था। यानी नया ऑफर प्राइस पुरानी ऑफर प्राइस से करीब 4 प्रतिशत ज्यादा है


VEDANTA OPEN OFFER


यतिन ने कहा कि कंपनी ने 17 प्रतिशत शेयर 235 रुपये पर खरीदने का ऑफर दिया है। ये ऑफर आज यानी 23 मार्च से 7 अप्रैल तक खुला है। इसे  बायबैक करके कंपनी डीलिस्ट कराने की कोशिश के रूप में देखा जा रहा है।


VEDANTA: SHAREHOLDING


कंपनी में Promoters की हिस्सेदारी 55.11 प्रतिशत है। जबकि Funds की हिस्सेदारी की बात करें तो LIC की 5.58 प्रतिशत, Vanguard की 1.58 प्रतिशत, Blackrock की 1.45 प्रतिशत और Charles Schwab की 0.32 प्रतिशत हिस्सेदारी है।


Emkay Research की राय
यतिन ने कहा कि कंपनी के इस ऑफर पर Emkay Research का अनुमान है कि इसका Minimum Acceptance Ratio 49 प्रतिशत और Potential Acceptance Ratio 64 प्रतिशत हो सकता है। यदि  final acceptance ratio को 65 प्रतिशत और ऑफर के बाद की कीमत 220 रुपये मानें तो इस ऑफर पर Arbitrage Return +2.75 प्रतिशत हो सकता है।


VEDANTA: CHRONOLOGY


वेदांता ने पहले October 2020 में 87.5 रुपये प्रति शेयर के भाव पर ओपन ऑफर दिया था। इसमें प्रोमोटर ने 4.98 प्रतिशत हिस्सा खरीदा था। इसमें प्रोमोटर ने 160 रुपये के भाव पर शेयर खरीदे थे। इसके बाद January 2021 में 10 प्रतिशत शेयर का ओपन ऑफर दिया था। इसमें 160 रुपये प्रति शेयर के भाव पर ओपन ऑफर दिया गया था। अब कंपनी द्वारा March 2021 में 17 प्रतिशत शेयर का ओपन ऑफर दिया है हालांकि अबकी बार ओपन ऑफर का भाव बढ़ाकर 235 रुपये कर दिया है।


VEDANTA पर LIC का नजरिया


LIC ने अक्टूबर, 2020 के ऑफर में इसके शेयर का 320 रुपये का भाव लगाया था। बता दें कि LIC कंपनी में सबसे बड़ी शेयरहोल्डर है जिसका 5.58 प्रतिशत हिस्सा है। सितंबर 2020 में प्रोमोटर्स हिस्सेदारी 50.14 प्रतिशत थी जबकि दिसंबर 2020 में ये हिस्सेदारी बढ़कर 55.11 प्रतिशत हो गई।


MOFSL के हेमांग जानी की ओपन ऑफर पर राय


हेमांग ने कहा कि पिछले 3 से 4 महीनों से जिस तरह प्रमोटर्स इस कंपनी में अपनी हिस्सेदारी बढ़ा रहे हैं और  प्रोमोटर्स जिस प्रकार अग्रेशन दिखा रहे हैं। उसे देखकर लगता है कि  इसमें और उछाल आ सकता है। इसका भाव 250 तक जा सकता है। इसलिए इस ओपन ऑफर में अपने शेयर्स नहीं देने चाहिए।


हेमांग ने आगे कहा कि ऐसा कंपनी ऐसे सेक्टर में कारोबार करती है जहां पिछले दो सेशन में माहौल बेहतर हुआ है। इसके पहले के ओपन ऑफर में इसका 160 का भाव ऑफर किया गया था। अब प्रमोटर्स इसे 235 में लेने को तैयार है इसका मतलब है उनको लगता है कि आगे फ्यूचर बढ़िया है। इसमें आगे अच्छी तेजी आ सकती है। इसलिए निवेशकों को अपने शेयर्स इस भाव में नहीं देने चाहिए।


बता दें कि भारत सरकार द्वारा इन्फ्रास्ट्रकचर और पॉवर सेक्टर में निवेश बढ़ाने से और मेक इन इंडिया पर फोकस से मीडियम से लॉन्ग टर्म में कंपनी को काफी फायदा होने की उम्मीद है।


ऐसी स्थति में निवेशकों को इस ऑफर में शेयर टेंडर के पहले इन सारी चीजों को ध्यान में रखना चाहिए। लेकिन बाजार के अन्य एक्सपर्ट का कहना है कि चूंकि इस बार की ऑफर प्राइस काफी अच्छी है। इसलिए शॉर्ट टर्म के निवेशक अगर चाहें तो इस ऑफर में अपने शेयर टेंडर कर सकते हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।