Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

लक्ष्मी विलास बैंक के शेयर की ट्रेडिंग आज से सस्पेंड, इस दिन खत्म होगा बैंक पर लगा मोरेटोरियम

DBS Bank के साथ लक्ष्मी विलास बैंक का विलय होने से ग्राहकों पर लगी 25 हजार रुपये निकालने की लिमिट खत्म हो जाएगी, जमाकर्ता जितना पैसा चाहें, उतना निकाल सकेंगे
अपडेटेड Nov 26, 2020 पर 16:18  |  स्रोत : Moneycontrol.com

केंद्र सरकार ने मोरेटोरियम पर रखे गए लक्ष्मी विलास बैंक (Lakshmi Vilas Bank- LVB) को सिंगापुर की DBS Bank के साथ विलय (Merger) को मंजूरी दे दी है। यह विलय कल यानी 27 नवंबर को होगा। इस वजह से आज यानी 26 नवंबर से शेयर बाजारों में लक्ष्मी विलास बैंक के शेयर्स की ट्रेडिंग को सस्पेंड कर दिया गया है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) ने कहा कि LVB के स्टॉक्स की ट्रेडिंग 26 नवंबर से बंद हो गई है। LVB का DBS Bank के साथ विलय होने से बैंक पर लागू मोरेटोरियम पीरियड 16 दिसंबर से घटकर 27 नवंबर तक रह गया है। यानी 27 नवंबर से लक्ष्मी विलास बैंक के कस्टमर्स जितना चाहें उतना पैसा निकाल सकेंगे।

DBS Bank के साथ लक्ष्मी विलास बैंक का विलय होने से ग्राहकों पर लगी 25 हजार रुपये निकालने की लिमिट खत्म हो जाएगी। बैंक के जमाकर्ता जितना पैसा चाहें, उतना निकाल सकेंगे। इससे बैंक के 20 लाख ग्राहकों को राहत मिलेगी। साथ ही लक्ष्‍मी विलास बैंक का नाम बदलक DBS Bank हो जाएगा। लक्ष्मी विलास बैंक के सभी ब्रांच और ATM कल से ही DBS Bank के नाम से ऑपरेट होंगे।

शेयरहोल्डर्स को कुछ भी नहीं मिलेगा

इस विलय के बाद लक्ष्मी विलास बैंक का जो भी पेड अप शेयर कैपिटल (paid-up share capital) यानी मतलब है कंपनी के कुल शेयर है, उसे पूरी तरह राइट-ऑफ (Write off) कर दिया जाएगा। वह पूरी तरह से खत्म हो जाएगा। इसका घाटा लक्ष्मी विकास बैंक के इक्विटी शेयर होल्डर्स को होगा। RBI के मुताबिक, अभी LVB का नेटवर्थ निगेटिव में है। ऐसे में इस विलय से बैंक के इक्विटी शेयर होल्डर्स को कोई पैसा नहीं मिलेगा और बैंक की वैल्यू जीरो मानी जाएगी। RBI ने कहा कि बैंक के पेड अप शेयर कैपिटल और रिजर्व के साथ सरप्लस और सिक्योरिटी प्रीमियर को भी राइट ऑफ (written off) किया जाएगा। आपको बता दें कि लक्ष्मी विलास बैंक को मोरेटोरियम पर डालने के समय बैंक के एक सेयर की कीमत 16 रुपये थी।

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।