Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

पर्यावरण संबंधी मंजूरी की प्रक्रिया में बदलाव की तैयारी, इंफ्रा प्रोजेक्ट्स को मिलेगा बूस्ट

बड़े इंफ्रा प्रोजेक्ट्स की पर्यावरण संबंधी मंजूरी 3-4 महीने में मिल सकती है।
अपडेटेड Nov 07, 2019 पर 09:19  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बड़े इंफ्रा प्रोजेक्ट्स की पर्यावरण संबंधी मंजूरी 3-4 महीने में मिल सकती है। सूत्रों से मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक सरकार पर्यावरण संबंधी मंजूरी के लिए मौजूदा प्रक्रिया में बदलाव करने जा रही है। नये बदलाव से प्रोजेक्ट्स को पर्यावरण संबंधी मंजूरी मिलने में पहले की तुलना में 2-3 महीने कम लगेंगे और निवेश में तेज़ी आएगी।


पर्यावरण मंजूरी की प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए सरकार टर्म ऑफ रेफरेंस हटाने की तैयारी में है। टर्म तैयार करने के चलते प्रोजेक्ट पास होने में देरी होती है। टर्म ऑफ रेफरेंस हटने से इंफ्रा प्रोजेक्ट्स की पर्यावरण संबंधी मंजूरी 3-4 महीने में ही मिल जाएगी। अभी इंफ़्रा प्रोजेक्ट को मंजूरी मिलने में 8-9 महीने लगते हैं। सूत्रों के मुताबिक अब टर्म ऑफ रेफेरेंस के बदले में कंपनियों को अंडर टेकिंग देनी होगी। टर्म ऑफ रेफरेंस हटने से सीधे पर्यावरण मंजूरी मिलेगी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।