Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

जेनरिक दवाओं के लिए बनेगा कानून

प्रकाशित Fri, 10, 2018 पर 08:21  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

ब्रांड नेम के जरिए मरीजों से हो रही लूट को रोकने के लिए सरकार दवा लेबलिंग के नए नियम बनाने जा रहा है। सीएनबीसी-आवाज़ को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी के मुताबिक ड्रग्स टेक्निकल एडवायजरी बोर्ड यानि डीटीएबी ने इस फैसले पर अपनी मंजूरी भी दे दी है। स्वास्थ्य मंत्रालय जल्द ही इस पर नोटिफिकेशन जारी करने वाला है। नए नियम अगले साल से लागू हो जाएंगे। दवा लेबलिंग के नए नियमों के तहत जेनरिक दवाओं के लिए कानून बनेगा।


दवा का जेनरिक नाम ब्रांड नेम से दो फॉन्ट बड़ा होगा। शेड्यूल एच, एच1, जी और एक्स दवा लाल रंग के बॉक्स में होगी। दवा के बॉक्स पर वार्निंग लिखनी भी जरूरी होगी। ये दवाएं बिना डॉक्टर के लिखे नहीं मिलेंगी ये नए नियम 1 अप्रैल 2019 से लागू हो सकते हैं। इन नियमों के पालन के लिए कंपनियों को 6 माह का वक्त मिल सकता है।