Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

अहम खबरें: जल्द खुलेंगे एलएनजी पंप, कॉमन सर्विस सेंटर्स के ज़रिए किसान बेच सकेंगे फसल

विदेशों में फंसे भारतीयों की वतन वापसी जारी है। आज सिंगापुर में सिंगापुर, UAE,ढाका से करीब 764 भारतीयों को लाया गया है।
अपडेटेड May 09, 2020 पर 13:31  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

विदेशों में फंसे भारतीयों की वतन वापसी जारी


विदेशों में फंसे भारतीयों की वतन वापसी जारी है। आज सिंगापुर में सिंगापुर, UAE,ढाका से करीब 764 भारतीयों को लाया गया है। पहली फ्लाइट कल सिंगापुर से आई । इसके अलावा 364 पैसेंजर को UAE से भारत लाया गया है। वहीं समुद्र सेतु ऑपरेशन के तहत मालदीव से शिप से बड़ी तादाद में फंसे भारतीयों को लाया जा रहा है। ढाका से भारतीय छात्रों को लेकर फ्लाइट श्रीनगर पहुंची है।  फ्लाइट टेक ऑफ  और लैंडिंग टाइम टेबल पर नजर डालें तो सिंगापुर-दिल्ली फ्लाइट सुबह 8.35 बजे उड़कर दोपहर 12 बजे दिल्ली पहुंची। रियाद-कोझिकोड सुबह दोपहर 12.45 बजे उड़कर रात 8.30 बजे कोझिकोड  पहुंचेगी। ढाका-श्रीनगर फ्लाइट सुबह 11 बजे उड़कर दोपहर 1 बजे पहुंची, बहरीन-कोच्चि फ्लाइट शाम 4.30 बजे उड़कर रात 11.30 बजे पहुंचेगी। दुबई-चेन्नई फ्लाइट दोपहर 2.50 बजे उड़कर रात 8.10 बजे पहुंचेगी।


किसान अपने एग्री प्रोड्यूस को कॉमन सर्विस सेंटर्स के ज़रिए सीधे फूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री या एक्पोर्टर्स को बेच सकेंगे।


किसान अपने एग्री प्रोड्यूस को कॉमन सर्विस सेंटर्स के ज़रिए सीधे फूड प्रोसेसिंग इंडस्ट्री या एक्पोर्टर्स को बेच सकेंगे। सरकार इसके लिए एक ऑनलाईन डिजीटल प्लेटफॉर्म तैयार कर रही है। ताकि कोरोना के संकट काल में किसानों को मंडियों का चक्कर न लगाना पड़े। इसकी शुरूआत जल्द ही कई बड़े राज्यों में एक साथ होगी।


ऑनलाईन डिजीटल प्लेटफॉर्म पर कृषि उत्पादों को सीधे इंडस्ट्री या एक्पोर्टर्स को बेचने की सुविधा मिलेगी जिससे किसानों को फसल बेचने के लिए मंडियों का चक्कर नहीं लगाना होगा। कॉमन सर्विस सेंटर के डिजिटल नेटवर्क पर एग्री प्रोड्यूस बेचने का इंतज़ाम होगा। महाराष्ट्र के पुणे में अंगूर और अनार बेचने के लिए पायलट प्रोजेक्ट चालू है। यूपी समेत कई राज्यों में भी ऑनलाईन मार्केट को शुरू करने की योजना है। इसके लिए मिशन डिजीटल इंडिया के तहत CSC तमाम इन्फ्रास्ट्रक्चर मुहैया कराएगा। किसानों को नुकसान न हो इसके लिए नियम कानून भी पहले से तय होंगे। इसके लिए फसल की लिस्टिंग, ग्रेड, स्टॉक और कीमत पहले से ही तय की जाएगी जिससे कि किसानों को फसल तैयार होने के पहले ही कीमत की जानकारी हो जाए। इस जानकारी के आधार पर ही किसान कारोबारियों या इंडस्ट्री का आर्डर स्वीकार करेगा। इस योजन को कार्यरूप देनें को लिए CSC के साथ मिलकर इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस ट्रेनिंग कोर्स चलाएगा।


पेट्रोल-डीजल के तर्ज़ पर आपको एलएनजी पंप की सुविधा देने की तैयारी भी शुरू हो गई है।


पेट्रोल-डीजल के तर्ज़ पर आपको एलएनजी पंप की सुविधा देने की तैयारी भी शुरू हो गई है। लॉकडाउन में छूट मिलते ही  एलएनजी रिटेल आउटलेट के लिए नियम बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। लॉकडाउन में छूट मिलते ही PNGRB यानी Petroleum & Natural Gas regulatory Board ने प्रक्रिया शुरू कर दी है। रिटेल आउटलेट के लिए मौजूदा नियमों में बदलाव की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है। इस मुद्दे पर 22 मई को कंपनियों के साथ अहम बैठक है। नए आउटलेट खोलने के लिए नियम और शर्तें अलग होंगी। सुरक्षा शर्तों के साथ मौजूदा पेट्रोल पंप पर भी LNG पंप खुल सकते हैं। शुरुआत में हाइवे और इकॉनमी कॉरिडोर पर LNG आउटलेट खोलने की तैयारी है। सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन के तहत भी LNG आउटलेट खोलने की योजना है। IOC, Petronet LNG, GAIL जैसी कंपनियों ने इकोनॉमी कॉरिडोर पर तैयारी शुरू कर दी है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।