Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

महाराष्ट्र : फडणवीस सरकार महिलाओं के लिए अलग से पेश करेगी बजट

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय फिस्कल इयर 2020-21 में आर्थिक बजट अलग से पेश करेगी।
अपडेटेड Sep 11, 2019 पर 17:56  |  स्रोत : Moneycontrol.com

महाराष्ट्र राज्य सरकार अपनी अर्थव्यवस्था को 2025 तक 5 लाख करोड़ डॉलर की बनाने के लिए पुरजोर कोशिश शुरु कर दी है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए राज्य सरकार ने महिलाओं के लिए अलग से आर्थिक बजट बनाने का फैसला किया है।


बिजनेस स्टैंडर्ड में छपी खबर के मुताबिक, राज्य की अर्थव्यवस्था को एक लाख करोड़ रुपये पहुंचाने के लिए बिजनेस सेक्टर में 20 महिलाओं की हिस्सेदारी बढ़ाने का फैसला किया है। इसके लिए महाराष्ट के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने महिलाओं के लिए अलग से बजट पेश करने की तैयारी पूरी कर ली है। राज्य के वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवर ने इसका ब्लू प्रिंट पेश किया। मुनगंटीवर ने कहा कि साल 2025 तक राज्य की अर्थव्यवस्था एक लाख करोड़ रुपये पहुंचाने का लक्ष्य है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए बगैर महिलाओं के संभव नहीं है। इसके लिए समाज के सभी वर्गों का विकास जरूरी है। 


मुनगंटीवर ने आगे कहा कि राज्य में आर्थिक रूप से तेजी से विकास करने के लिए महिलाओं और बच्चों को समान अवसर मिलना जरूरी है। उन्हें बेहतर वातारण देने के लिए सरकार पूरी कोशिश कर रही है। वित्त मंत्री का कहना है कि मुंबई देश की आर्थिक  राजधानी है और महाराष्ट्र उसका इंजन है।
 
बता दें कि कुछ दिनों पहले फाइनेंस कमीशन ने कहा था कि साल 2025 तक देश की अर्थव्यवस्था को 5 लाख करोड़ डॉलर बनाने के लिए महाराष्ट्र को 20 फीसदी हिस्सेदारी निभानी चाहिए। लिहाजा राज्य सरकार ने इसे अमल में लाना शुरु कर दिया है। इसके लिए राज्य सरकार ने अपनी योजनाओं में काफी बदलाव किया है। सरकार हर सेक्टर के विकास के लिए खासतौर से ध्यान दे रही है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।