Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

Corona को लेकर महाराष्ट्र सरकार की नई रणनीति, अब होंगे सिर्फ रेड और नॉन रेड जोन

मुंबई महानगरपालिका के साथ मुंबई महानगर प्रदेश की सभी महानगपालिकाएं, पुणे, सोलापुर, औरंगाबाद, मालेगांव, नाशिक, धुले, जलगांव, अकोला और अमरावती की महानगरपालिका क्षेत्रों को रेड जोन घोषित किया है। बाकी के भाग को नॉन रेड जोन घोषित किया है।
अपडेटेड May 20, 2020 पर 14:50  |  स्रोत : Moneycontrol.com

राज्य सरकार ने कोरोना प्रबंधन को आसान बनाते हुए राज्य में 22 मई से केवल रेड जोन और नॉन रेड जोन के नाम से केवल दो जोन बनाये हैं। इसके अनुसार मुंबई महानगरपालिका के साथ मुंबई महानगर प्रदेश की सभी महानगपालिकाएं, पुणे, सोलापुर, औरंगाबाद, मालेगांव, नाशिक, धुले, जलगांव, अकोला और अमरावती की महानगरपालिका क्षेत्रों को रेड जोन घोषित किया है। बाकी के भाग को नॉन रेड जोन घोषित किया है।


नॉन रेड जोन में बाजार और दुकानें शाम 5 बजे तक खोलने की अनुमति दी गई है। लेकिन प्रतिबंधित क्षेत्र में सिर्फ जीवनावश्यक वस्तुओं के लिए अनुमति दी गई है। कंटेनमेंट जोन में से चिकित्सा और अत्यावश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के अलावा किसी भी कारण इस क्षेत्र के लोगों को बाहर जाने या आने से रोक लगाई गई है। 65 वर्ष से अधिक और 10 वर्ष के कम आयु को लोगों को अत्यावश्यक कारण के बिना घर में ही रहना जरूरी होगा।


जिले के अंदर बससेवा की अनुमति प्रदान की गई है। सरकार ने स्पष्ट किया है कि इन दिशानिर्देशों के अलावा किसी भी जिले या महानगरपालिका प्रशासन को  मुख्य सचिव की मंजूरी के बिना स्वतंत्र आदेश निकाने की मंजूरी नहीं होगी। नई नियमावली 22 मई से पूरे राज्य में लागू होगी।


महाराष्ट्र टाइम्स में छपी खबर के अनुसार राज्य सरकार द्वारा 31 मई तक घोषित लॉकडाउन के चौथे चरण में रेड जोन के साथ-साथ मुंबई और पुणे क्षेत्र में प्रतिबंधित क्षेत्र में प्रतिबंध को यथावत रखा है। हालाँकि नए नियमों में रेड ज़ोन को छोड़कर अन्य ज़ोन को लॉकडाउन से छूट दी गई है। बाजारों, सरकारी कार्यालयों, खेल के मैदानों आदि की अनुमति देकर नॉन रेड जोन में दैनिक जीवन को बहाल करने पर जोर दिया गया है।


रेड जोन में स्थानीय प्रशासन की अनुमति से खुल सकेंगी शराब की दुकानें


रेड जोन में अत्यंत जरूरी सेवाओं की सभी दुकानों को अनुमति दी जायेगी और इस संबंध में स्थानीय प्रशासन निर्णय लेगा। स्थानीय प्रशासन की मंजूरी से शराब की दुकाने भी खुल सकती हैं। हालांकि शराब की होम डिलीवरी की अनुमति होगी। फोर व्हीलर गाडियों में ड्राइवर के अलावा 2 जन और दुपहिया वाहनों पर एक व्यक्ति को ही अनुमति होगी। माल्स और जिन दुकानों और प्रतिष्ठानों को अनुमति नहीं दी गई है ऐसी दुकानों को सुबह 9 से शाम 5 बजे तक साफ-सफाई के लिए खोलने की अनुमति होगी। आरटीओ कार्यालय खोलने की अनुमति दी गई है। इसके अलावा युनिवर्सिटी, कॉलेजों में उत्तर पत्रिकाओं की जांच करने के लिए 5 प्रतिशत कर्मचारी उपस्थित रहने की मंजूरी दी गई है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।