Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

31 जनवरी से पहले रिट या अपील दाखिल किए गए मामले विवाद से विश्वास स्कीम में होंगे शामिल

विवाद से विश्वास स्कीम में ऐसे विवादित इनकम टैक्स मामले शामिल किए हैं जिनके लिए 31 जनवरी से पहले रिट या अपील दाखिल हो चुकी है।
अपडेटेड Feb 18, 2020 पर 10:54  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

विवाद से विश्वास स्कीम में ऐसे विवादित इनकम टैक्स मामले शामिल किए हैं जिनके लिए 31 जनवरी से पहले रिट या अपील दाखिल हो चुकी है। साथ ही 5 करोड़ से कम से सर्च वाले मामलों को भी इस स्कीम का फायदा मिलेगा।


विवाद से विश्वास स्कीम में शामिल हो सकते है ये मामलें


विवाद से विश्वास स्कीम का दायरा बढ़ाने के बाद अब इन सभी स्कीमों को शामिल किया जा सकता है।


- ऐसे मामले जिनमें आर्डर आने के बावजूद अपील दाखिल करने की अवधि 31 जनवरी को खत्म न हुई हो।


- Dispute resolution panel के पास पेंडिंग मामले को भी स्कीम में शामिल किया जा सकता है।


-जिन मामलों में अभी DRP ने आर्डर पास नहीं किया है


-जिन मामलों में टैक्सपेयर ने सेक्शन 264 के तहत 31 जनवरी तक रिविज़न फ़ाइल किया हो।


-सर्च वाले मामले जहां विवादित डिमांड 5 करोड़ से कम हो।


- ऐसे मामलों में 125% टैक्स लगाने का प्रावधान होगा। 


- विवादित डिमांड में टैक्स, पेनल्टी, इंटेरेस्ट, फीस, टीडीएस और टीसीएस की रकम भी शामिल होगी।


- ऐसे विवादित डिमांड वाले मामले जहाँ टैक्सपेयर ने पेमेंट कर रखी हो।


किन्हें नहीं मिलेगा स्कीम का फायदा


- 5 करोड़ से ज्यादा सर्च वाले मामलों को राहत नहीं मिलेगी।


- IT IPC एक्ट के तहत प्रोसेक्यूशनमें चल रहे मामलों को भी राहत नहीं।


- छिपाई हुई विदेशी इनकम और विदेश से मिली जानकारी के आधार पर चल रहे मामले भी दायरे से बाहर होगे।


- ड्रग्स और नारकोटिक्स कानून के तहत चल रहे मामले, PMLA, PCA, स्मगलिंग, बेनामी और स्पेशल कोर्ट के आदेश वाले मामलों को इस स्कीम से कोई राहत नहीं मिलेगी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।