Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

मिल सकती है टेलीकॉम सेक्टर में बड़े रिफॉर्म को मंजूरी, 5G नीलामी की दिक्कतों पर भी चर्चा संभव

डिजिटल कम्युनिकेशन कमिशन आज टेलीकॉम सेक्टर में बड़े रिफॉर्म को हरी झंडी दे सकती है।
अपडेटेड May 12, 2020 पर 10:53  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

डिजिटल कम्युनिकेशन कमिशन आज टेलीकॉम सेक्टर में बड़े रिफॉर्म को हरी झंडी दे सकती है।  सूत्रों के मुताबिक टेलीकॉम इक्विपमेंट प्रोडक्शन में लगी हुई कंपनियों को प्रोडक्शन लिंक इंसेंटिव देने को हरी झंडी मिल सकती है। साथ ही तेजी से ब्रॉडबैंड को बढ़ावा देने वाली ट्राई की सिफारिशों को भी मंजूरी दी जा सकती है।  कम्युनिकेशन कमिशन  की बैठक में 5 G स्पेक्ट्रम की नीलामी में आने वाली दिक्कतों को भी दूर करने पर फैसला हो सकता है


आज होनेवाली डिजिटल कम्युनिकेशन कमिशन की अहम बैठक में टेलीकॉम इक्विपमेंट मैन्युफैक्चरिंग में लगी कंपनियों के लिए पीएलआई स्कीम को भी मंजूरी मिल सकती है। इस बैठक में चीन से भारत में प्रोडक्शन शिफ्ट करने वाली कंपनियों के लिए नई स्कीम को हरी झंडी मिल सकती है । साथ ही घरेलू टेलीकॉम इक्विपमेंट मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों को भी इसका फायदा मिलेगा। इसका फायदा Tejas Network, HFCL, Shyam Telecom, VNL, Paramount Cables जैसी कंपनियों को भी मिल सकता है।


सूत्रों के अनुसार टेलीकॉम सेक्टर के लिए सरकार 25,000 से 30,000 करोड़ की स्कीम की घोषणा कर सकती है। घर-घर तक तेजी से ब्रॉडबैंड पहुंचाने वाली ट्राई की सिफारिशों को हरी झंडी मिलेगी। 


बता दें कि ट्राई ने 2015 में तेजी से ब्रॉडबैंड पहुंचाने के लिए कई रिफॉर्म्स की सिफारिश की थी। साथ ही कमीशन 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी में आने वाली दिक्कतों को दूर करने की हरी झंडी दे सकता है। रक्षा मंत्रालय ने 3300 से लेकर 3500 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम की मांग की है। डिफेंस को अल्टरनेटिव स्पेक्ट्रम देने पर भी विचार किया जा सकता है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।