Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

Metal sector के लिए Q4 रहेगा शानदार, इकोनॉमी में रिकवरी और infra boost का मिलेगा फायदा

चौथी तिमाही में मेटल सेक्टर की कंपनियों के नतीजे काफी मजबूत रहने वाले हैं.
अपडेटेड Apr 15, 2021 पर 08:28  |  स्रोत : Moneycontrol.com

ब्रोकरेज हाउसों का कहना है कि वित्त वर्ष 2021 की तीसरी तिमाही मेटल सेक्टर के लिए काफी अच्छी रही थी। अब चौथी तिमाही के इस सेक्टर के लिए और बेहतर रहने की उम्मीद है। जानकारों का कहना है कि मेटल सेक्टर काफी अच्छी स्थिति में नजर आ रहा है। इकोनॉमी में आ रही रिकवरी और इंफ्रा पर सरकार के फोकस मेटल सेक्टर के लिए मांग में बढ़त देखने को मिल रही है। इससे इस बात के संकेत हैं कि चौथी तिमाही में मेटल सेक्टर की कंपनियों के नतीजे काफी मजबूत रहने वाले हैं।


Edelweiss Securities ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि वित्त वर्ष 2021 की चौथी तिमाही में मेटल सेक्टर के नतीजे इसी साल के तासरी तिमाही ने नतीजों का रिकॉर्ड तोड़ देंगे।


Edelweiss Securities का कहना है कि चौथी तिमाही में फेरस मेटल कंपनियां शानदार प्रदर्शन करेंगी। इस अवधि में इनका एवरेज एबिटडा साालना आधार 156 फीसदी की ग्रोथ दिखा सकता है। इसके अलावा डिमांड, कीमत और लागत में कमी जैसे मोर्चों पर भी अच्छा प्रदर्शन देखने को मिल सकता है।


Edelweiss का मानना है कि नॉन फेरस कंपनियों में वेदांता का प्रदर्शन बेहतर रहेगा। कंपनी को कमोडिटी की कीमतों में बढ़त और सभी वर्टिकल्स में उत्पादन बढ़ने का फायदा मिलेगा। 
 
माइनिंग कंपनियों पर नजर डालें तो NMDC के नतीजे शानदार रहने की उम्मीद है। कंपनी को वॉल्यूम में ग्रोथ और कीमतों में बढ़त दोनों का फायदा मिलेगा। वहीं इस अवधि में कोल इंडिया का प्रदर्शन सुस्त रह सकता है।


Edelweiss का कहना है कि नॉन फेरस मेटल कंपनियों के लिए LME की ऊंची कीमत, वॉल्यूम में ग्रोथ और लागत में कमी फायदेमंद साबित होगी और इनकी अर्निग बढ़ती दिखेगी। आगे भी मेटल की बढ़ती मांग, कीमतों में मजबूती और वॉल्यूम ग्रोथ की वजह से मेटल कंपनियों में तेजी बनी रहेगी।


Edelweiss का रूख इस सेक्टर पर पॉजिटिव बना हुआ है और निवेश के नजरिए से Tata Steel, SAIL, JSPL और Hindalco इसके टॉप पिक में शामिल हैं।


कोटक सिक्योरिटीज का भी कहना है कि आगे स्टील कंपनियों को स्टील कीमतों में बढ़त का फायदा मिलेगा। इनको घरेलू और एक्सपोर्ट बाजार में बढ़ती मांग का भी फायदा मिलेगा।
 
 
सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।