Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

मेटल कंपनियों की पिटाई, जानिए वजह

प्रकाशित Tue, 27, 2018 पर 13:11  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आज मेटल कंपनियों में अच्छी खासी गिरावट देखने को मिल रही है। इसके पीछे कई फैक्टर्स काम कर रहे हैं। चीन में स्टील की कीमतें पिछले 3 महीने में 21 फीसदी गिर गई हैं। इसके अलावा ब्रोकरेज हाउसेस भी मेटल कंपनियों को लेकर निराश हैं। आज मॉर्गन स्टैनली ने मेटल कंपनियों पर रिपोर्ट जारी की है जिसमें लक्ष्य में भारी कटौती की गई है।


भारत में स्टील की घरेलू मांग घटी है वहीं, 3 महीने में चीन में स्टील के दाम 21 फीसदी गिरे हैं। चीन में स्टील की कीमत 5 महीने के निचले स्तर पर है। चीन में आयरन ओर 4 महीने में सबसे कमजोर स्तर पर है। अमेरिका-चीन ट्रेड वॉर से मेटल कीमतों पर दबाव देखने को मिलेगा। चीन के स्टील प्रोड्यूसर्स 3 साल में पहली बार घाटे में हैं। कमजोर मांग, चीन में रिकॉर्ड सप्लाई से स्टील के दाम गिरे हैं। कॉपर समेत सभी मेटल में बिकवाली हावी है। निकेल 13 महीने के निचले स्तर पर है। लेड 5 महीने के निचले स्तर पर है। वहीं, जिंक करीब 3 महीने के निचले स्तर पर है।


ब्रोकरेज हाउसेस भी मेटल कंपनियों को लेकर निराश हैं। आज मॉर्गन स्टैनली ने मेटल कंपनियों पर रिपोर्ट जारी की है जिसमें लक्ष्य में भारी कटौती की गई है। मॉर्गन स्टैनली ने जेएसपीएल, जेएसडब्ल्यू स्टील, सेल, वेदांता और हिंडाल्को के लक्ष्य घटाए हैं। कोल इंडिया पर मॉर्गन स्टैनली ने लक्ष्य 306 से घटा कर 296 कर दिया है। जबकि जेएसपीएल पर लक्ष्य 314 से कम कर 174 रुपए कर दिया है। जेएसडब्ल्यू स्टील के लक्ष्य में भी बड़ी कटौती की गई है। सेल पर लक्ष्य घटाकर 53 रुपए है जबकि वेदांता पर 235 रुपए का लक्ष्य है।