Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

महाराष्ट्र में मॉनसून का कहर, 136 से ज्यादा की मौत-84,452 लोगों को किया गया स्थानांतरित

रायगढ़, कोंकण और सातारा में अगले दो दिन के लिए रेड अलर्ट है। कोल्हापुर, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग ऑरेंज अलर्ट पर है.
अपडेटेड Jul 24, 2021 पर 19:43  |  स्रोत : Moneycontrol.com

महाराष्ट्र में मॉनसून का कहर जारी है। राज्य में भारी बारिश के चलते हुई दुर्घटनाओं के कारण दर्जनों लोग काल के मुंह में समा गए हैं। महाराष्ट्र के कोस्टल रायगढ़ जिले में तलाई गांव के नजदीक लैंड स्लाइड होने के कारण अब तक 49 लोगों की मौत हो गई है। बाताया जा रहा है कि भूस्खलन की इस घटना में अब भी 47 लोग लापता हैं और 12 घायलों का अस्पताल में इलाज हो रहा है। मलबे में फंसे लोगों की जिंदगी को बचाने के लिए राहत और बचाव कार्य जारी है और माना जा रहा है कि मौत के आंकड़ों में अभी और इजाफा होगा। वहीं, पूरे महाराष्ट्र की बात करें तो बारिश की वजह से दो दिनों में अब तक 136 से अधिक लोगों की मौतें हो चुकी हैं।


पुलिस के मुताबिक, यह हादसा महाड तहसील के तलाई गांव में गुरुवार शाम को हुआ। इस हादसे में मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। अधिकारी की मानें तो भूस्खलन वाली जगह से अब तक 49 शव बरामद किए गए हैं। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ), स्थानीय आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ, पुलिस और जिला प्रशासन की टीमें राहत एवं बचाव अभियान में जुटी हुई हैं। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे आज दोपहर 12 बजे तलाई गांव का दौरा करेंगे और वहां हालात की समीक्षा करेंगे।


बता दें कि रायगढ़, कोंकण और सातारा में अगले दो दिन के लिए रेड अलर्ट है। कोल्हापुर, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग ऑरेंज अलर्ट पर है। कोल्हापुर की नदी पंचगंगा, रत्नागिरी की काजली और मुचकुंदी, कृष्ण नदी और कोयना डैम के साथ-साथ विशिष्टि नदी अब भी खतरे के निशान के ऊपर बह रही है।



सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें.