Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

आईटी और फार्मा में आएगी नौकरियों की बहार

प्रकाशित Wed, 12, 2018 पर 16:24  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

अगर आप आईटी या फार्मा ग्रेजुएट हैं और नौकरी की तलाश में हैं तो परेशान होने की बिल्कुल जरूरत नहीं हैं क्योंकि आने वाले दिनों में इन दो सेक्टर्स में बंपर नौकरियां निकलने वाली हैं। आईटी सेक्टर में जोरदार हायरिंग शुरु हो चुकी है तो फार्मा ग्रेजुएट्स को एक रौबदार नौकरी करने का मौका मिलने वाला है। एक्सपर्ट भी कह रहे हैं कि दोनों ही सेक्टर में नौकरियों के शानदार मौके आ रहे हैं।


आईटी सेक्टर में वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में 24000 नौकरियां मिलने की उम्मीद है। जबकि वित्त वर्ष 2018 में इस सेक्टर में सिर्फ 13000 नौकरियां मिली थीं। अगले 3 साल में इस सेक्टर में नौकरियों के अवसर और बढ़ेंगे। टीसीएस, कांग्निजेंट, एचसीएल, इंफोसिस, विप्रो में नौकरियों अच्छे मौके हैं। टीसीएस को 5.6 अरब डॉलर का कॉन्ट्रैक्ट मिला है। वहीं, विप्रो के पास 1.6 बिलियन डॉलर के कांट्रैक्ट हैं। आगे आईटी ग्रेजुएट्स के लिए आउटसोर्सिंग के काम की भरमार रहने की संभावना है। डेटा एनालिटिक्स प्लेटफॉर्म के लिए आईटी वेंडर्स की जरूरत बढ़ रही है। डिजिटल टेक्नॉलजी अपग्रेडेशन पर कंपनियों का फोकस है जिसका आईटी सर्विस प्रोवाइडर कंपनियों को फायदा होगा।


इसके अलावा बीमा कंपनियों, कॉल सेंटर, रिसर्च सेंटर, डॉक्टरों, नर्स, पैरामेडिकल कर्मचारी, टैक्नीशियन के 1 लाख पद सृजित होने की उम्मीद है। जिससे इंजीनियर्स के अलावा फार्मा ग्रेजुएट्स को भी मौका मिलेगा। निजी अस्पतालों में भी 80 हजार पद मेडिकल डिवाइस स्पेशलिस्ट के सृजित होंगे। मेडिकल डिवाइस पॉलिसी के तहत हर अस्पताल में मेडिकल डिवाइस एक्सपर्ट रखना अनिवायर्य हो सकता है। जानकारों का कहना है कि आयुष्मान भारत योजना के तहत 3 साल में 2 लाख नौकरियों का सृजन होगा। स्वास्थ्य मंत्रालय के एक आकलन में यह जानकारी सामने आई है। जल्द ही 1 लाख आयुष्मान मित्र की भर्ती की जाएगी।