Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

लक्ष्मी विलास बैंक से 27 नवंबर से मोरेटोरियम हटेगा, सभी ब्रांच DBS India बैंक की तरफ काम करेंगे

लक्ष्मी विलास बैंक के खातों से सिर्फ 25,000 रुपए निकालने की जो सीमा थी उसे अब हटा लिया गया है
अपडेटेड Nov 26, 2020 पर 11:24  |  स्रोत : Moneycontrol.com

आज कैबिनेट की बैठक में लक्ष्मी विलास बैंक (Laxmi Vilas Bank) को DBS India में विलय को मंजूरी दे दी है। कैबिनेट की मंजूरी मिलने के बाद सिंगापुर के सबसे बड़े बैंक DBS Bank की भारतीय इकाई में लक्ष्मी विलास बैंक का विलय हो जाएगा। RBI ने लक्ष्मी विलास बैंक को बचाने के लिए DBS India में विलय का रास्ता चुना है। यह पहली बार है जब किसी भारतीय बैंक को डूबने से बचाने के लिए किसी विदेशी बैंक में विलय किया जा रहा है।


प्रकाश जावडे़कर ने कहा कि इस फैसले से बैंक के 20 लाख डिपॉजिटर और 4000 कर्मचारियों को राहत मिलेगी। इसके साथ ही बैंक के खातों से अधिकतम 25,000 रुपए की रकम निकालने की जो सीमा थी उसे भी हटा लिया गया है। शुक्रवार 27 नवंबर से लक्ष्मी विलास बैंक से मोरेटोरियम हट जाएगा। इसी के साथ लक्ष्मी विलास बैंक के सभी ब्रांच अब DBS India बैंक के तौर पर काम करेंगे।


लक्ष्मी विलास बैंक इस साल का दूसरा बैंक है जिसे RBI ने डूबने से बचाया है। इससे पहले मार्च में RBI ने यस बैंक को डूबने से बचाया था। पिछले 15 महीनों में देखा जाए तो लक्ष्मी विलास बैंक तीसरा बैंक है जिसे डूबने से बचाया गया है।


क्या है डील में खास?


DBS India में लक्ष्मी विलास बैंक के विलय की डील में DBS India को 563 ब्रांच, 974 ATM और रिटेल बिजनेस में 1.6 अरब डॉलर की फ्रेंचाइजी मिलेगी।


94 साल पुराने लक्ष्मी विलास बैंक का नाम खत्म हो जाएगा और साथ ही इसकी इक्विटी भी पूरी तरह खत्म हो जाएगी। अब इस बैंक का पूरा डिपॉजिट DBS India के पास चला जाएगा।


इससे पहले RBI ने लक्ष्मी विलास बैंक पर 16 दिसंबर तक मोरेटोरियम लागू कर दिया था। इस दौरान खाताधारक ज्यादा से ज्यादा 25,000 रुपए की रकम ही निकाल सकते थे। लेकिन आज के फैसले के साथ ही यह सीमा खत्म कर दी गई है। अब ग्राहक अपनी जरूरत के हिसाब से पैसा निकाल सकते हैं।


जिन लोगों का सैलरी अकाउंट  लक्ष्मी विलास बैंक में था या किसी दूसरी तरह की आमदनी आती थी उसे तुरंत रोक दिया गया है और दूसरे बैंक में ट्रांसफर का इंतजाम करने को कहा गया है। इसके लिए खाताधारकों को लेटर लिखकर अपनी सैलरी या दूसरी आमदनी अपने किसी और खाते में ट्रांसफर करने का निवेदन करना होगा। अगर लक्ष्मी विलास बैंक में आपका लोन अकाउंट था तो पहले EMI की रकम 25,000 रुपए में से कट जाएगी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।