Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

जानिए ATM से कैश निकालने के ये खास नियम

RBI ने ट्रांजैक्शन फेल होने पर एक टाइम लिमिट निर्धारित की है।
अपडेटेड Oct 01, 2019 पर 13:09  |  स्रोत : Moneycontrol.com

RBI ने आम ग्राहकों को राहत देने के मकसद से पिछले हफ्ते बैंकों पर नकेल कसी थी। जिसमें ट्रांजैक्शन को लेकर बैंकों के लिए टाइम लिमिट निर्धारित किया गया। अगर किसी ग्राहक के ATM से कैश नहीं निकलते हैं और अकाउंट से पैसे कट जाते हैं। ऐसी स्थिति में बैंकों को 5 दिन के भीतर इसे निपटाना होगा।


RBI ने ट्रांजैक्शन फेल होने पर एक टाइम लिमिट निर्धारित की है। अगर किसी को ट्रांजैक्शन करने के बाद टाइम से पैसे नहीं मिले तो बैंकों को मुआवजा देना पड़ेगा।


जानिए ये खास 5 नियम :-


1
नए नियमों के मुताबिक, अगर ATM से ट्रांजैक्शन करने पर कैश नहीं निकला और अकाउंट से पैसे कट गए। ऐसी स्थिति में बैंकों को 100 रुपये प्रति दिन के हिसाब से पेमेंट करना होगा। साथ ही 5 दिन के भीतर बैंकों को पैसा वापस लौटाना होगा। इसके अलावा यही नियम ट्रांजैक्शन फेल होने पर माइक्रो- ATM में भी लागू होता है।


2
RBI ने पिछले महीने साफ तौर पर कहा था कि अगर ATM से ट्रांजैक्शन के दौरान कोई तकनीकी खराबी आ जाती है। जैसे हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर या कोई कम्युनिकेशन समस्या आती है, तो बैंक उसे ट्रांजैक्शन में गिनती नहीं करेंगे। कुछ बैंक हैं जो एक तय लिमिट के बाद ट्रांजैक्शन करने पर चार्ज वसूलते हैं। ऐसे में RBI ने कहा कि ATM से ट्रांजैक्शन फेल होने पर ग्राहकों से चार्ज नहीं वसूल सकते।


3
इसके अलावा मशीन में करेंसी नोट मौजूद नहीं होने के कारण ATM से हुए ट्रांजैक्शन को नहीं गिना जाएगा। और न ही इस कोई चार्ज लिय जा सकता।


4
इनवैलिड पिन, या पिन नंबर की जांच करने, दूसरे कारणों से ATM ट्रांजैक्शन फेल होने पर बैंक इसे ट्रांजैक्शन नहीं मानेंगे।


5


बिना कैश का ट्रांजैक्शन जैसे बैलेंस जांच करना, चेक बुक रिक्वेस्ट और फंड ट्रांसफर को ऑन-अस ट्रांजैक्शन के तौर पर गिना जाएगा। यह एक प्रकार का फ्री ट्रांजैक्शन का हिस्सा नहीं हो सकता है। RBI ने 14 अगस्त को जारी एक बयान में कहा था कि ऑन-अस ट्रांजैक्शन का मतलब है कि डेबिट कार्ड और ATM एक ही बैंक के हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।