Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

आज जारी हो सकते हैं लॉकडाउन-4 को लेकर नए नियम, 31 मई तक जारी रह सकता है चौथा चरण

आज लॉकडाउन-4 को लेकर नए नियम जारी हो सकते हैं। सभी राज्यों ने प्रधानमंत्री को अपने सुझाव दे दिए हैं।
अपडेटेड May 18, 2020 पर 00:28  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आज लॉकडाउन-4 को लेकर नए नियम जारी हो सकते हैं। सभी राज्यों ने प्रधानमंत्री को अपने सुझाव दे दिए हैं। माना जा रहा है कि इसके 31 मई तक बढ़ाया जा सकता है। हालांकि इसमें कई तरह की छूट मिल सकती है। ज्यादातर राज्यों ने लॉकडाउन बढ़ाने की सिफारिश की है। प्रधानमंत्री मोदी को लगभग सभी राज्यों ने सुझाव भेजा है। लॉकडाउन-4 में ग्रीन और आरेंज जोन में ज्यादा छूट मिलने की संभावना है। रेड जोन में भी कंटेनमेंट एरिया को छोड़कर छूट मिल सकती है। हॉटस्पॉट और कंटेनमेंट जोन में पूरी सख्ती बनी रहेगी।


आज लॉकडाउन-4 में राज्यों को जोन तय करने का अधिकार दिया जा सकता है। पब्लिक ट्रांसपोर्ट को शर्तों के साथ खोलने की इजाजत दी जा सकती है। ऑटो, टैक्सी, कैब और हवाई सेवाओं की शुरूआत भी संभव है। हालांकि रेड जोन में  मेट्रो सेवा शुरू होने को लेकर सस्पेंस है। लेकिन शॉपिंग मॉल्स के साथ ढाबे और रेस्टोरेंट खोले जा सकते हैं जबकि स्कूल कॉलेज और सिनेमा हॉल खुलने की कोई संभावना नहीं है।


किस राज्य ने क्या सुझाव दिया? इस पर नजर डालें तो  दिल्ली ने मेट्रो सर्विस को शुरू करने का सुझाव दिया है। दिल्ली का कहना है कि ऑड-इवन फार्मूले के साथ पब्लिक ट्रांसपोर्ट शुरू होना चाहिए। छत्तीसगढ़ ने राज्यों की सीमा सील रखने का सुझाव दिया है। बिहार ने प्रवासी मजदूरों को लेकर लॉकडाउन की सिफारिश की है। उत्तरप्रदेश ने ग्रीन और ऑरेंज जोन में और रियायत मांगी है। कर्नाटक ने ई-कॉमर्स को पूरी तरह से शुरू करने को कहा है। राजस्थान ने ग्रीन जोन में व्यवसायिक गतिविधि शुरू करने को कहा है।


दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी से नीचे दी गई शर्तो के साथ दिल्ली को खोलने की सिफारिश की है।


- टैक्सी और कैब में ड्राइवर के अलावा सिर्फ दो लोगों को सवारी करने की अनुमति हो।


- कार पूलिंग अथवा कैब एग्रीगेटर द्वारा कैब शेयरिंग नहीं होनी चाहिए।


- बसों में उनकी क्षमता के 20 फीसदी से ज्यादा सवारी नहीं होनी चाहिए।


- इसके साथ ही बस के निकास और प्रवेश द्वार पर मार्सल लगाने चाहिए।


- सरकारी और पीएसयू में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए सुबह 7.30 बजे से 10.30 बजे और शाम 5:30 बजे से 8:30 बजे तक मेट्रो सेवाओं की अनुमति होनी चाहिए।


- दुपहिया वाहनों पर पिछली सवारी पर मनाही होनी चाहिए। कार में ड्राइवर के अलावा अधिकतम दो लोगों को सवारी करने की अनुमति हो।


- प्राइवेट कंपनियों के कार्यालयों में सभी जोनों में 50फीसदी कर्मचारियों के साथ काम शुरु हो। शेष कर्मचारी घर से काम करें।


- बाजार और कॉम्प्लेक्स ऑड इवन के आधार पर खुलें।


- शॉपिंग कॉम्पलेक्स में एक बार में सिर्फ 35 फीसदी दुकाने खुलें। इन नियमों को लागू करने की जिम्मेदारी कॉम्प्लेक्स के प्रबंधकों पर हो।


- संख्या के आधार पर दुकानें एक-एक दिन के अंतराल पर खुलें। हालांकि जरुरी सामानों की दुकानें सभी दिन खुली रह सकती हैं।




सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।