Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

कंज्यूमर अड्डाः सख्त होगा नया ट्रैफिक कानून, क्या होंगे बदलाव

नशे में या बहुत ज्यादा तेज गाड़ी चलाने वालों को, या फिर ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों को अब महंगा पड़ जाएगा।
अपडेटेड Jul 17, 2019 पर 10:34  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नशे में या बहुत ज्यादा तेज गाड़ी चलाने वालों को, या फिर ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों को अब महंगा पड़ जाएगा। यही नहीं आपने अपने बच्चे को गाड़ी दे दी और उसने एक्सिडेंट कर दिया तो आपको भारी पड़ेगा। सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने मोटर व्हीकल सशोधन बिल पेश कर दिया है। उम्मीद है कि ये हल्के-फुल्के बदलाव के साथ पास हो जाएगा।


सरकार का दावा है कि नए कानून से सड़क हादसों की संख्या कम करने में मदद मिलेगी। संशोधित कानून में नशे में गाड़ी चलाने पर अब दस हजार रुपए का जुर्माना लगेगा। बिना लाइसेंस गाड़ी चलाने पर 5000 रुपए, सीट बेल्ट नहीं लगाने और बिना हेलमेट गाड़ी चलाने पर 1000-1000 रुपए जुर्माना देना होगा। ओवर स्पीडिंग और गाड़ी चलाते हुए फोन करने पर 5000 रुपए जुर्माने का प्रावधान है। थर्ड पार्टी इंश्योरेंस नियमों में भी बदलाव किया गया है।


नए ट्रैफिक कानून में एक और खास बात होगी। अब नाबालिग के गाड़ी चलाने पर दुर्घटना होने से जिम्मेदारी अभिभावक या गाड़ी के मालिक की होगी, उन्हें तीन साल की कैद भी हो सकती है। पहली बार मोटर व्हीकल कानून में टैक्सी एग्रिगेटर कंपनियों को जगह दी गई है।


ये बिल की कुछ खास बातें हैं, लेकिन कुल मिलाकर पुराने कानून में 88 बदलाव किए गए हैं। हालांकि ये एक मॉडल कानून होगा, राज्य सरकारों को इसके प्रावधानों को अपनाने या ना अपनाने की छूट होगी। इस शो में हम इसी पर चर्चा करेंगे।


नए मोटर बिल में लगने वाले नए जुर्माने की बात करें तो नशे में गाड़ी चलाने पर पहले 2000 रुपये का जुर्माना देना होता था लेकिन अब 10000 रुपये जुर्माना भरना पड़ेगा। वहीं ओवर स्पीडिंग पर पहले 1000 रुपये जुर्माना देना होता था लेकिन नए कानून के तहत अब ओवर स्पीडिंग 5000 रुपये तक का जुर्माना देना होगा।


वहीं बिना लाइसेंस गाड़ी चलाने पर पहले 500 रुपये जुर्माना चुकाना होता था लेकिन अब इसके लिए 5000 रुपये तक जुर्माना बढ़ाया गया है। गाड़ी चलाते हुए फोन करने पर अब 5000 रुपये जुर्माना भरना पडेगा। हिट एंड रन मामले में पहले 25000 रुपये जुर्माना देना पड़ता लेकिन नए कानून के तहत 200000 रुपये तक जुर्माना भरना पड़ेगा।