Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

न्यू ईयर प्लानिंगः कहीं मचेगी धूम, कहीं होगा पहरा

प्रकाशित Sat, 29, 2018 पर 14:58  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नए साल की तैयारियों जोरों से शुरू हो गई हैं। लेकिन अभी तक अगर आपने न्यू इयर प्लानिंग नहीं की है तो हम आपको दिल्ली-एनसीआर की बेस्ट पार्टी प्लेसेस बता रहे हैं। जहां आप अपने करीबी दोस्तों और परिवार के साथ नए साल का भव्य स्वागत कर सकते हैं।


डांस और मस्ती के साथ अगर आप नए साल का स्वागत करना चाहते हैं तो इसके लिए दिल्ली और एनसीआर के होटल भी सज गए हैं। एक्सक्लूसिव क्लब के शौकीनों के लिए भी खास इंतजाम किए गए हैं। होटल द ललित का मशहूर नाइट क्लब किटी सू में इंटरनेशनल डीजे और खास थीम की म्यूजिक की तैयारी है। 31 दिसंबर की रात की जश्न के लिए अगर आप सिंगल हैं तो आपको खर्च करने होंगे 6999 रुपए पर अगर कपल एंट्री चाहते हैं तो इसके लिए बजट 9,999 रुपए देने होंगे। इस पैकेज में अनलिमिटेड फूड और ड्रिंक्स आपको मिलेंगे, लेकिन अगर आप नए साल को शाही अंदाज में मनाना चाहते हैं तो द उमराव के न्यू इयर पार्टी का हिस्सा बढ़िया ऑप्शन है।


उमराव के न्यू ईयर एस्केप पैकेज के लिए देने होंगे 14,999 रुपए। इसमें दो लोगों का रहना, वेल्कम ड्रिंक्स, अनलिमिटेड स्ट्रीट फूड, स्वीडिश मसाज और गाला डिनर, ड्रिंक्स सब शामिल हैं। हालांकि होटल ने सिर्फ पार्टी के लिए 5 हजार रुपए का पैकेज अलग से रखा है। वहीं अगर आपको लाइव म्यूजिक और डांस पसंद है तो रेडिसन ब्लू भी जा सकते हैं। सिर्फ 4,999 रुपए में अनलिमिटेड खाना, ड्रिंक, इंटरनेशनल डीजे, डांसर के साथ नए साल का स्वागत करें।


खेल की मस्ती में न्यू ईयर को सेलिब्रेट करना है सेमैश की न्यू इयर पार्टी आपके लिए बेस्ट ऑप्शन है। बच्चों और बड़ों दोनों के लिए क्रिकेट, फुटबॉल, वीडियो गेम्स के विकल्प हैं। यहां पैकेज 2499 रुपए से शुरू होता है।  इसके अलावा हार्डी संधू के पंजाबी गानों के साथ पार्टी करना है तो लीला एंबियंस के न्यू इयर पार्टी भी जा सकते हैं। इसके टिकट 2,999 रुपए से लेकर 17,999 रुपए के हैं। वहीं आस्था गिल के गानों के फैन हैं तो दिल्ली के दिल कनॉट प्लेस के जंकयार्ड कैफे में नए साल की पार्टी मनाएं। इसके लिए आपको 2500 - 6500 रुपए तक खर्च करने होंगे।


लेकिन इस साल अहमदाबाद में फीका रहेगा नए साल का सेलिब्रेशनI जी हां पार्किंग के कड़े नियम के चलते पिछले साल के मुकाबले आधे से ज्यादा आयोजकों ने न्यू ईयर पार्टी का आयोजन नहीं किया है।


इस बार अहमदाबाद के लोगों के लिए नए साल का सेलिब्रेसन फीका पड़ सकता हैI दरअसल अहमदाबाद पुलिस ने पिछले कुछ महीनों से अवैध पार्किंग के खिलाफ मुहीम छेड़ रखी हैI जिसके चलते क्लब्स और होटल्स ने लिमिटेड एंट्री कर दी हैI इतना ही नहीं गुजरात में शराब बैन हैI लिहाजा ऐसे लोगों को भी पार्टी में एंट्री देने वाले होटल्स पर जुर्माना लग सकता हैI वहीं इसे देखते हुए अहमदाबाद में नए साल पर पार्टी ऑर्गनाइज करने वाले होटल्स और क्लब्स की संख्या आधी हो गयी है, लेकर पुलिस सख्त है, जिन होटल्स के पास जितना पार्किंग है उतने ही लोगो के लिए आयोजन हुआ है। पार्किंग के नियम कड़े है तब तक ठीक है, लेकिन कोई गाड़ी रोड पर पार्क करके आता है या बहार से शराब पीकर आता है तो इसमें हमारी जिम्मेदारी कैसे हो सकती है। यही वजह है की लोगो का इस पार्टी के आयोजन में इंटरेस्ट नहीं है।


हर साल अहमदाबाद में क्लब्स, होटल्स के अलावा कई फार्म हाउस में भी प्राइवेट पार्टी होती हैI लेकिन इस बार गुजरात सरकार के आदेश पर अहमदाबाद पुलिस ने ऐसे आयोजकों पर भी जुर्माना लगाने का मन बनाया है, जिन होटल या क्लब के बहार नो पार्किंग में कार पार्क की जाएगीI वहीं हर एक क्लब और होटल में एंट्री से लेकर पार्टी होल तक सीसीटीवी लगा होना जरूरी हैI साथ ही पार्टी में आनेवाली महिलाओं की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम होना जरुरी हैI जिसे देखते हुए कई होटल्स ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम कर लिए हैंI तो न्यू ईयर पार्टी के लिए तैयार हो जाइए लेकिन नियमों को ध्यान में रखते हुएI


अगर आपने भी इस न्यू ईयर पार्टी की प्लानिंग कर ली है तो ये खबर आपको परेशान कर सकती हैI क्योंकि, हो सकता है कि इस बार आपको न्यू ईयर की पार्टी पंजाबी, तमिल या फिर इंग्लिश गानों के साथ इन्जॉय करनी पड़ेI


ये इस साल के कुछ ऐसे चार्टबस्टर्स गाने हैं, जो आपको थिरकने पर मजबूर करते होंगेI न्यू ईयर पर अधिकतर लोग पार्टी करने के मूड में होते हैंI और हर कोई इन सौंग्स को अपनी न्यू ईयर पार्टी के प्लेलिस्ट का हिस्सा बनाना चाहेगा। लेकिन अगर आप इस बार न्यू ईयर पार्टी किसी होटल, क्लब या पब में अटेंड करने जा रहे हैं, तो शायद आपको अपनी पसंद के गानों पर झूमने को न मिले। दरअसल, 300 म्यूजिक लेबल्स के कॉपीराइट रखने का दवा करने वाली म्यूजिक लाइसेंसिंग कंपनी पीपीएल ने इवेंट ऑर्गनाइजर्स से लइकेन्सिंग फीस या रॉयल्टी की डिमांड की हैं। जिससे बचने के लिए उन्हें अपने प्लेलिस्ट में बदलाव भी करने पड़ेंगेI


वहीं स्पेशल पार्टीज के लिए पहले से ही ऑर्गनाइजर्स करीब दर्जन भर लाइसेंस के बोझ तले दबे हुए हैं, ऐसे में ऑर्गनाइजर्स किसी अन रजिस्टर्ड संस्था के लाइसेंस और रॉयल्टी का वो विरोध कर रहे हैंI


फिलहाल पीपीएल की तरफ से बॉम्बे हाई कोर्ट में एक अपील दायर की गयी हैं, जिन पर बगैर लाइसेंस इन 300 म्यूजिक लेबल्स को न चलाने की मांग राखी गयी हैंI जिस पर कोर्ट की सहमति आना अभी बाकी हैंI