Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

NEWS18 POLL| 91.69% लोगों ने कहा चीन भारत का दुश्मन नंबर एक

चाइनीज सामान का बॉयकॉट करेंगे? इस सवाल पर पोल में शमिल 70.13 फीसदी लोगों ने कहा कि हां.
अपडेटेड Jun 22, 2020 पर 13:16  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

भारत और चीन के सेना के बीच झड़प के बाद सीमा पर तनाव बढ़ गया है। दोनों देशों के बीच तनातनी के बीच न्यूज18 ने देश भर में एक ऑनलाइन पोल किया। पिछले 15 दिनों में ये दूसरा पोल है। पहला पोल 5 जून को किया गया था। न्यूज18, मनी कंट्रोल, फर्स्टपोस्ट, CNBC-TV18 की वेबसाइट्स और सोशल प्लेटफॉर्म पर ये पोल किया गया। ये पोल 19 जून को दोपहर 12 बजे से शुरू होकर 20 जून दोपहर 12 बजे तक चला। करीब 6 हजार लोगों ने इस पोल में हिस्सा लिया। पोल में लोगों से कुल 9 सवाल पूछे गए। सर्वे के क्या हाइलाइट्स हैं आइए जानते हैं।


चाइनीज सामान का बॉयकॉट करेंगे? इस सवाल पर पोल में शमिल  70.13 फीसदी लोगों ने कहा कि हां, भले ज्यादा खर्च करना पड़े। बल्कि   6.38 फीसदी लोगों ने कहा कि  नहीं, इसका सीमा विवाद से लेना-देना नहीं है।


चाइनीज ऐप का इस्तेमाल बंद कर देंगे? इस सवाल पर  90.72 फीसदी लोगों ने कहा कि हां, और दूसरों से भी ऐसा करने को कहूंगा। 0.99 फीसदी लोगों ने कहा कि वे ऐसा नहीं करेंगे क्योंकि उनको टिकटॉक बहुत पसंद है हैं। 2.35 फीसदी लोगों ने कहा कि वे चीनी ऐप इस्तेमाल करेंगे लेकिन कोशिश करेंगे की डाटा बाहर ना जाए। वहीं,  5.94 फीसदी लोगों ने कहा कि इसका कोई अच्छा भारतीय विकल्प नहीं है।


चीन पर फिर भरोसा कर पाएंगे? इस पर 44 फीसदी लोगों ने कहा कि उन्होंने हमेशा हमें धोखा दिया है। 47.83 फीसदी लोगों ने कहा कि अब  कभी भरोसा नहीं करेंगे।  जबकि   8.17 फीसदी लोगों का कहना है कि भारत, चीन पड़ोसी हैं, रिश्ता रखना ही होगा।


चाइनीज खाने से पहले सोचेंगे? इस सवाल पर  30.55 फीसदी लोगों ने कहा कि इसका खाने से क्या लेना-देना।  26.50 फीसदी लोगों का कहना है कि भारतीय चाइनीज का नया नाम सोचें।      42.95 फीसदी लोगों ने कहा कि अब मैं चाइनीज नहीं खाऊंगा।


क्रिकेटर्स, फिल्म स्टार्स चीनी सामान का एंडोर्समेंट बंद करें? इस सवाल पर  78.75 फीसदी लोगों ने कहा कि  हां ऐसा होना चाहिए।  जबकी 3.43 फीसदी लोग इसके पक्ष में नहीं हैं।   17.82 फीसदी लोगों का कहना है कि देश को प्राथमिकता दें तो अच्छा है।


अभी किस देश से भारत को ज्यादा खतरा है? इस सवाल पर  91.69 फीसदी लोगों ने कहा की चीन से वहीं,   8.31 फीसदी लोगों ने पाकिस्तान का नाम लिया।


भारत को चीन को कैसे जवाब देना चाहिए? इस सवाल पर  36.36 फीसदी लोगों ने कहा कि सेना को खुली छूट दें,  48.37 फीसदी लोगों ने कहा कि चाइनीज कंपनियों पर बैन लगे वहीं,  15.27 फीसदी लोगों ने कहा कि ये मेरा काम नहीं है।


चीनी‌ राष्ट्रपति ने दोस्ती, शांति प्रस्ताव पर धोखा दिया? इस पर  62.05 फीसदी लोगों की राय है कि जिनपिंग ने पीठ में खंजर घोंपा है।  24.54 फीसदी लोगों ने कहा कि उनसे और क्या उम्मीद कर सकते हैं। वहीं,   13.41 फीसदी लोगों ने कहा कि वह विस्तारवादी नेता हैं।


चीन के खिलाफ हमारा सबसे भरोसेमंद साथी कौन?  इस सवाल पर  18.12 फीसदी लोगों ने कहा कि US राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप। वहीं,   19.32 फीसदी लोगों ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन का नाम  लिया। 10.35 फीसदी लोगों ने जापान, दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया का नाम लिया। वहीं,  52.21 फीसदी लोगों ने कहा कि कोई नहीं, हमें आत्मनिर्भर होना होगा।





सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।