Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

न्यूयार्क मेट्रोपॉलिटन म्यूजियम ऑफ आर्ट की पहली भारतीय ट्रस्टी बनीं नीता अंबानी

ये म्यूजियम 149 साल पुराना है और अमेरिका का सबसे बड़ा आर्ट म्यूजियम है।
अपडेटेड Nov 14, 2019 पर 10:57  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

रिलायंस फाउंडेशन की चेयरपर्सन नीता अंबानी न्यूयॉर्क के मेट्रोपॉलिटन म्यूजियम ऑफ आर्ट के बोर्ड में शामिल की गई हैं। नीता अंबानी इस म्यूजियम की पहली भारतीय मानद ट्रस्टी बन गई हैं। नीता अंबानी पिछले कई वर्षों से न्यूयॉर्क के मेट्रोपॉलिटीन म्यूजियम की प्रदर्शनियों को सपोर्ट कर रही हैं।


ये म्यूजियम 149 साल पुराना है और अमेरिका का सबसे बड़ा आर्ट म्यूजियम है। यहां पर दुनियाभर की 5000 साल पुरानी कलाकृतियां मौजूद हैं। हर साल लाखों लोग म्यूजियम देखने पहुंचते हैं। इनमें कई अरबपति और सेलेब्रिटी भी होते हैं। म्यूजियम के चेयरमैन डेनियल ब्रॉडस्की ने मंगलवार को कहा कि नीता अंबानी की मदद से म्यूजियम की कला के अध्ययन और प्रदर्शन में काफी बढ़ोतरी हुई है।


नीता अंबानी ने 2017 में कहा था कि मेट्रोपॉलिटन म्यूजियम के जरिए भारतीय कला को एक प्रतिष्ठित संस्थान में प्रदर्शन का मौका मिला और हम कला के क्षेत्र में काम जारी रखने के लिए प्रोत्साहित हुए। नीता रिलायंस फाउंडेशन के जरिए भारतीय कला और संस्कृति का दुनियाभर में प्रचार कर रही हैं। वे देश में खेल और विकास की योजनाओं को भी बढ़ावा दे रही हैं।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।