Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

FISCAL DEFICIT की चिंता करने का वक्त नहीं, राहत पैकेज से मिलेगी नई ताकत: नितिन गडकरी

नितिन गडकरी ने NBFCs को मजबूत बनाने की भी वकालत की है।
अपडेटेड May 14, 2020 पर 13:25  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी अपने बड़े लक्ष्यों के लिए जाने जाते हैं। इस मुश्किल वक्त में भी उन्होंने एक बड़ा TARGET तय किया है। cnbc-awaaz के साथ  एक्सक्लूसिव बातचीत में उन्होंने कहा है कि वो 2 साल में 15 लाख करोड़ के रोड़ प्रोजेक्ट  देंगे। मुश्किल वक्त में भी देश के हौसले बुलंद हैं। कांट्रैक्टर की दिक्कतें सरकार को पता हैं। कांट्रैक्टर को प्रोजेक्ट पूरा करने के लिए पैसे दिए जाएंगे। अगले 2 साल में 15 लाख करोड़ के रोड प्रोजेक्ट का लक्ष्य रखा गया है। लक्ष्य बड़ा है लेकिन इसके पूरा करने का इरादा भी मजबूत है। सरकार का लिक्विडिटी बढ़ाने पर पूरा जोर है।


उन्होंने आगे कहा कि 20 लाख करोड़ के राहत पैकेज से इकोनॉमी में नई जान आएगी। इस एक्सक्लूसिव बातचीत में MSME और ट्रांसपोर्ट मंत्री ने ये भी कहा है कि इस वक्त FISCAL DEFICIT की चिंता बेमानी है।  राहत पैकेज से इकोनॉमी को नई ताकत आएगी। FISCAL DEFICIT की चिंता इस वक्त नहीं करना चाहिए। 20 लाख करोड़ से सिस्टम में लिक्विडिटी आएगी। लोगों के हाथ में पैसा आने से लोग खर्च करेंगे। इससे टैक्स कलेक्शन और रोजगार बढ़ाने में मदद मिलेगी।


नितिन गडकरी ने NBFCs को मजबूत बनाने की भी वकालत की है। उनका कहना है कि NBFCs छोटे और मझोली कंपनियों को बड़ी फंडिंग करती है इसलिए इनको लिक्विडिटी की दिक्कत नहीं आने देना चाहिए। NBFCs से MSME को बड़ी फंडिंग मिलती है। छोटे लोन बांटने में NBFCs की बड़ी भूमिका है। NBFCs को किसी भी कीमत में पैसा देना चाहिए। इनके विदेशों से भी पैसा दिलाने में मदद दी जाएगी। RBI और बैंकों को NBFCs की हर हाल में मदद करनी चाहिए।




सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।