Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

पहरेदार की पहल, पेपरफ्राई से ग्राहक को मिला रिफंड

पेपरफ्राई जो इस मामले में उदासीन बना हुआ था उसने तुरंत कार्रवाई करते हुए गौरव से प्रोडक्ट रिटर्न मंगवा लिया।
अपडेटेड Apr 22, 2019 पर 12:38  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सीएनबीसी-आवाज़ पर आने वाला टीवी का सबसे बड़ा कंज्यूमर शो पहरेदार ग्राहक की आवाज़ बुलंद करता है और लड़ता है ग्राहक के हक की लड़ाई। जब कंपनियों की मनमानी के सामने कंज्यूमर झुकने लगता है, तब उनके हक की आवाज़ लेकर पहरेदार करता है कंपनी से सवाल और कंपनी को देना होता है जवाब।


पहरेदार के जरिए उन लोगों को इंसाफ मिल पाता है जो कंपनियों के अड़ियल रवैये के चलते उन जरूरी सर्विसेज से महरूम रह जाते हैं जो उनका हक है। पहरेदार उन कंपनियों को भी सबक सिखाता है जो वादे तो कर देती हैं लेकिन उन्हें पूरे करने में आनाकानी करती हैं।


अब पहरेदार देश की सबसे बड़ी ऑनलाइन फर्नीचर सप्लाइ करने वाली पेपरफ्राई कंपनी से सवाल उठा रहा है आखिर क्यों एक कंज्यूमर द्वारा ऑर्डर किये मुताबिक सामान नहीं मिलने पर उनके प्रश्नों का जवाब देकर उन्हें संतुष्ट नहीं किया गया। ऐेसे ही भुक्तभोगी कंज्यूमर हैं दिल्ली के गौरव भट्ट जिन्होंने पेपरफ्राई से मार्च 2019 में डबल बेड के साथ गद्दा ऑर्डर किया था और दोनों प्रोडक्ट के लिए 13760 रुपये अदा किये थे।


इन्होंने बॉक्स स्टोरेज बेड वाला मॉडल चुना था परंतु जैसी इनकी उम्मीद थी प्रोडक्ट वैसा नहीं निकला। जबकि बॉक्स स्टोरेज बेड में और भी सामान रखा जा सकता है। बेड पर प्लाई की एक परत थी जो जमीन को छू रही थी और मजबूती के लिहाज से बेड काफी कमजोर था।


इसके बाद गौरव ने पेपरफ्राई की 7 दिनों के अंदर रिटर्न पॉलिसी के तहत कस्टर केयर से बात की जहां पर उन्हें कुछ शर्तें बताई गईं। जिसमें पता चला कुछ सामानों के लिए रिटर्न पॉलिसी लागू है और मेरे प्रोडक्ट को वापस लेने से इनकार कर दिया। उनके द्वारा भेजे गये गद्दे भी बेड के आकार से छोटे थे। जिस पर भी गौरव को कस्टमर केयर से कोई संतोषजनक उत्तर नहीं मिल रहा था।


थक हार कर आखिर में गौरव भट्ट ने सीएनबीसी आवाज़ के पहरेदार से संपर्क किया और पहरेदार द्वारा पहल किये जाने पर पेपरफ्राई जो अब तक इनके मामले में उदासीन बना हुआ था उसने तुरंत कार्रवाई करते हुए गौरव से प्रोडक्ट रिटर्न मंगवा लिया और उनके पैसे भी उन्हे लौटा दिये।


हालांकि पेपरफ्राई ने अपने आधिकारिक बयान में कहा है कि उन्होंने गौरव को उनकी मांग के अनुसार ही प्रोडक्ट भेजा था परंतु उनके संतुष्ट नहीं होने पर कंपनी ने उनको भेजा गया प्रोडक्ट वापस ले लिया और उनको उनका रिफंड लौटा दिया क्योंकि कंपनी के लिए ग्राहक ही सर्वोपरि हैं।